हिंसा को भड़काने के लिए बाहर से की गई फंडिंग

Abhishek PandeyAbhishek Pandey   27 May 2017 3:16 PM GMT

हिंसा को भड़काने के लिए बाहर से की गई फंडिंगसहारनपुर दंगे की जांच में पुलिस का दावा है कि दंगा भड़काने के लिए बाहर से फंडिंग की गई।

हिंसा को भड़काने के लिए बाहर से की गई फंडिंग लखनऊ। सहारनपुर हिंसा की जांच में लगी पुलिस का दावा है कि दंगा भड़काने के लिए बाहर से फंडिंग की गई। पुलिस की नजर उन बैंक खातों पर भी है, जिनमें हिंसा के दौरान ट्रांजैक्शन किया गया।

साथ ही, पुलिस सूत्रों के अनुसार हिंसा की चिंगारी भड़काने में भीम सेना के अध्यक्ष चंद्रशेखर पर बाहरियों से मदद लेकर माहौल बिगाड़ने के भी आरोप हैं। सहारनपुर के शब्बीरपुर गाँव में पांच मई को दो समुदायों के बीच भड़की हिंसा की चिंगारी ने पूरे पश्चिमी यूपी को झुलसा दिया है।

इससे पहले शब्बीरपुर के ग्रामीणों ने भी गाँव कनेक्शन से कहा था कि यहां का माहौल बाहरी लोगों ने खराब किया है। खुफिया सूत्रों का दावा है कि दंगा भड़काने में भीम आर्मी को फंड करने की भी बात सामने आ रही है।

ये भी पढ़ें- सहारनपुर हिंसा : कमेटी बनाकर तनाव खत्म करने का प्रयास

इसमें भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर इसका इस्तेमाल कश्मीर में हो रही पत्थरबाजी की तर्ज़ पर सहारनपुर में हिंसा भड़काने में प्रयोग कर रहा था। हालांकि पुलिस ने जल्द ही उसे गिरफ्तार करने का दावा किया है। हिंसा के बाद से ही भीम सेना अध्यक्ष चंद्रशेखर सहारनपुर से फरार है। उसे जंतर-मंतर पर एक सभा करते देखा गया था, जिसके बाद से चंद्रशेखर अंडरग्राउंड हो गया, जिसकी तलाश खुफिया एजेंसी कर रही हैं।

उधर, सहारनपुर में कैंप कर रहे एडीजी एलओ आदित्य मिश्रा ने कहा, "ऐसे कुछ तथ्य सामने आए हैं और जांच पूरी होने के बाद पूरी स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। उन्होंने आगे बताया, "सहारनपुर का माहौल बिल्कुल सामान्य होने के बाद ही भीम सेना अध्यक्ष चंद्रशेखर को दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया जायेगा, जबकि उसके अन्य साथियों को सालाखों के पीछे भेजने का काम किया जा रहा है।"

जांच में पुलिस को कई बैंक स्टेटमेंट भी मिले हैं, जिसमें सहारनपुर हिंसा के दौरान लाखों रुपये फंडिंग करने के सबूत सामने आये हैं। पुलिस इस दिशा में भी जांच कर रही है कि आखिर हिंसा के दौरान किन लोगों ने इन बैंक खातों में लाखों रुपये ट्रांसफर किए। सहारनपुर में हिंसा की आग को हवा देने में सोशल मीडिया की भी काफी बड़ी भूमिका रही, इसके बाद वहां की इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया था।

ये भी पढ़ें- सहारनपुर हिंसा : शब्बीरपुर के लोगों ने कहा, बाहरी लोगों ने दी चिंगारी को हवा

"पूरी स्थिति का रिव्यू कर जल्द ही इंटरनेट सेवा को बहाल किया जाएगा। फिलहाल सहारनपुर की स्थिति काबू में है, लेकिन तनाव अब भी बरकरार है। जिसे लेकर पुलिस लगातार फ्लैग मार्च क्षेत्र में कर रही है।" पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह ने कहा। पुलिस सूत्रों की मानें तो, इस रुपये का इस्तेमाल केवल यूपी के माहौल को खराब करने के लिए हो रहा था, जिससे प्रदेश में सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ा जा सके। वहीं एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि भीम सेना पूरी तरह कश्मीर के पत्थरबाजों के तर्ज पर काम कर रही है। इसका मकसद केवल यूपी सहित पूरे देश में माहौल खराब करना है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top