सहारनपुर हिंसा : शब्बीरपुर के लोगों ने कहा, बाहरी लोगों ने दी चिंगारी को हवा

Basant KumarBasant Kumar   24 May 2017 10:24 PM GMT

सहारनपुर हिंसा : शब्बीरपुर के लोगों ने कहा, बाहरी लोगों ने दी चिंगारी को हवाबवाल के बाद जला हुआ एक घर। (फोटो-बसंत)

सहारनपुर। शब्बीरपुर गाँव फिर से अपने पुराने दिनों की तरफ लौट रहा था। दोनों समुदाय के लोग जोहुआ उसे भुलाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन बसपा प्रमुख मायावाती के मंगलवार को दौरे के बाद भड़की हिंसा में एक युवक की मौत के बाद फिर से सुलग उठा।

''गाँव में सब कुछ ठीक हो गया था। मायावती की रैली के बाद भीम आर्मी के लोगों द्वारा गाँव कामहौल दोबारा खराब कर दिया गया," इतना बोलते हुए शब्बीरपुर गाँव के अमरपाल सिंह ( 60 वर्ष ) के चेहरे पर चिंता साफ दिखी।

ये भी पढ़ें- सहारनपुर हिंसा: इंटरनेट सेवा बंद , बबलू कुमार बने नए एसएसपी, प्रमोद कुमार पांडे नए डीएम

वहीं, कृष्णपाल सिंह (68 वर्ष) ने बताया, "जो कुछ भी हमारे गाँव में हुआ उसमें हमारे गाँव के लोग कम और बाहर के लोग ज़्यादा शामिल हैं। 5 मई के दिन भी चार से पांच बच्चे पूरे मामले में गाँव के थे, बाकी लोग बाहर से ही आए थे। कल भी बहुत कम लोग गाँव के थे, जिले के अलग-अलग हिस्सों सेभीम आर्मी के लोग हमारी गलियों में घूम-घूमकर गाली दे रहे थे और घरों में आग लगा रहे थे।"

उधर, सहारनपुर में दोबारा से हिंसा भड़कने में प्रशासन की नाकामी साफ नजर आई। बवाल के बाद शासन ने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को तत्काल मौके पर भेजा। इसके बाद कार्रवाई करते हुए वहां के डीएम और एसएसपी को हटा दिया गया। प्रमोद कुमार को नया डीएम और बबलू कुमार को एसएसपी बनाया गया है।

ये भी पढ़ें- सहारनपुर का दर्द: ‘जिनको पैदा होते देखा, उन्होंने ही घर जला दिया’

शब्बीरपुर गांव पहुंचे उत्तर प्रदेश के गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्रा ने स्थानीय लोगों से शांतिपूर्वक रहने को कहा। गृह सचिव ने कहा कि अगले चौबीस घंटों में क्षेत्र में अमन-चैन का महौल होगा।पुलिस का यहां जबरदस्त इंतज़ाम किया गया है और किसी भी तरह से अराजकता फ़ैलाने वालेव्यक्ति को छोड़ा नहीं जाएगा।" वहीं, सचिव का महिलाओं ने जमकर विरोध किया और पुलिस पर एकतरफा फैसला लेने का आरोप लगाया।''

बंद पड़े दुकान।

भीम आर्मी पर जल्द होगी कार्रवाई

शब्बीरपुर गाँव पहुंचे एडीजी ( लॉ एंड आर्डर ) आदित्य मिश्रा ने भीम आर्मी को लेकर कहा कि दलितसमुदाय के कुछ युवक सोशल मीडिया के जरिए अपनी बातें रख रहे हैं, लेकिन जो काफी उत्तेजक हैं। ऐसा दूसरे समुदाय के साथ भी है। वहां भी कुछ युवा ही इस मामले में आगे है। सबकी पहचान होगई है जल्द ही उचित कार्रवाई होगी।''

भीम आर्मी के प्रमुख चंदशेखर आज़ाद की गिरफ्तारी पर सचिव गृह ने कहा, "जब तक कुछ साबित नहीं होता, कैसे गिरफ्तार किया जा सकता है। जैसे कुछ साबित होगा हम तुरंत करवाई करेंगे।"

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top