अमेठी के डीएम ने धान खरीद केंद्र के कांटे पर खुद खड़े होकर की जांच

अमेठी के डीएम ने धान खरीद केंद्र के कांटे पर खुद खड़े होकर की जांचकांटे पर खड़े होकर उसकी सत्यता की जांच करते जिलाधिकारी योगेश कुमार।

अमेठी। उत्तर प्रदेश में अमेठी के जिलाधिकारी जिलाधिकारी योगेश कुमार ने मंगलवार को गौरीगंज के असैदापुर स्थित एफसीआइ सहित जायस मण्डी परिषद का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डीएम को खामियां मिली जिसको जल्द ही सुधारने का आदेश दिया साथ ही किसानों की समस्याओं को सुनकर अमेठी के डिप्टी आरएमओ का नंबर देते हुए कहा किसी भी तरह की परेशानी होने पर यहां करें शिकायत।

जिलाधिकारी ने गौरीगंज के असैदापुर एफसीआई (फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड) गोदाम स्थित धान क्रय केन्द्र, यूपी स्टेट एग्रो एण्ड कारपोरेशन लिमिटेड क्रय केन्द्र व मण्डी परिषद जायस स्थित धान क्रय केन्द्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण में जिलाधिकारी ने असैदापुर स्थित एफसीआई धान क्रय केन्द्र में नमी मापक यंत्र, कांटा, झन्ना सहित अन्य उपकरणों को व्यवस्थित रखने का निर्देश दिया।

उपकरण देखते डीएम योगेश कुमार।

ये भी पढ़ें- फिलिपीन: प्रधानमंत्री ने सौंपे धान की दो प्रजातियों के बीज

केन्द्र प्रभारी गौरीगंज ने बताया कि 04 नवंबर से 13 नवंबर तक 40.06 एमटी धान की खरीद हो चुकी है एवं तीन राइस मिलों को कुटाई के लिये एग्रीमेंट किया गया है जिसके तहत प्रतिदिन 50 से 100 कुन्तल धान संबंधित राईस मिलों को भेजा जा रहा है। जिलाधिकारी द्वारा यूपी स्टेट एग्रो एण्ड कारपोरेशन लिमिटेड क्रय केन्द्र गौरीगंज का निरीक्षण किया गया। जिसमें उन्होनें पाया कि अभी तक की कुल खरीद मात्र 297 कुन्तल है, जिसमें महज पांच किसानों ने अपना धान विक्रय किया है।

ये भी पढ़ें- सरकारी धान खरीद केंद्र पड़े सूने, बस कागजों में हो रही बंपर खरीद

डीएम ने धान क्रय की खराब प्रगति पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते कहा कि मानक के अनुसार धान की खरीद की जाए इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। जिलाधिकारी ने मण्डी परिषद जायस स्थित धान क्रय केन्द्र के निरीक्षण के दौरान वहां पर खरीद रजिस्टर, पंजीकरण रजिस्टर व रसीद पुस्तिका की जांच की। वहीं उन्होंने किसानों से भी दूरभाष पर धान क्रय की गुणवत्ता के बारे में जानकारी ली एवं संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने मौजूद किसानों से कहा कि आप लोग अपने-अपने धान को विक्रय करने के लिए गोदामों पर आयें और सैम्पल व नमी चेक कराकर अपना धान केन्द्र प्रभारी द्वारा बताये गये दिनांक पर आकर बेचें। उन्होंने समस्त केन्द्र प्रभारियों को निर्देषित करते हुए कहा कि गोदामों पर किसानों को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो इसके लिए छांव, पीने का पानी आदि की उचित व्यव्स्था रखें। उन्होंने यह भी कहा कि अगर किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या होती है तो वह डिप्टी आरएमओ जनपद अमेठी के मोबाईल नं0 7233870888 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है।

खेती और रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली मशीनों और जुगाड़ के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top