क्रिकेट मैच : आईपीएस के सामने आईएएस हुए बोल्ड

क्रिकेट मैच : आईपीएस के सामने आईएएस हुए बोल्डजीत के बाद आईपीएस  इलेवन की टीम

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में चल रहे आईएएस वीक के मौके पर राजधानी लखनऊ के शहीद पथ स्थित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में शनिवार को मैदान पर आईएएस और आईपीएस इलेवन के दिग्गजों के बीच का काफी रोमांचक मुकाबला रहा। आईपीएस इलेवन ने 15 ओवर के भीतर ही लक्ष्य हासिल कर आईएएस 11 को 9 विकेट से मात दे दी।

मैच में आईपीएस इलेवन की कप्तानी सीआरपीएफ के आईजी डीएस चौहान के नेतृत्व में थी। कप्तान डीएस चौहान की धुआधार बल्लेबाजी ने दर्शकों को मैच में बांधे रखा। आईपीएस इलेवन ने पहले बल्लेबाजी की। मैच में रोमांचक मोड़ उस वक्त आया जब आईएएस इलेवन के कप्तान नवनीत सहगल को आईपीएस आलोक कुमार ने पहली ही गेंद पर बोल्ड कर दिया। उनके बोल्ड होते ही कमेंट्री बाक्स से आईएएस एस पी गोयल ने कहा कि आईएएस अधिकारी आईपीएस अधिकारियों को इनता सम्मान देते हैं कि खुद बा खुद बगैर ज्यादा खेले अपना विकेट दे देते हैं। आउट होने के बाद तुरंत आईएएस नवनीत सहगल को याद आया कि उनको कमेंट्री करनी है तो वे तत्काल विकेट गंवाकर वापस कमेंट्री बाक्स में चले गए।

ये भी पढ़ें- ट्रैफिक पुलिस की नौकरी : ना तो खाने का ठिकाना, ना सोने का वक्त

इससे पहले आईएएस इलेवन की ओर से गौरांग ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की। उन्होंने 47 बॉल पर 58 रन मारे। इस दौरान कामंट्री बाक्स ने आवाज आई कि सरकार की पालिसी के खिलाफ है इतनी निर्मम फील्डिंग। आईएएस अनुराग यादव के खेलने जाने पर कहा गया कि, लंदन से इम्पोटेड बल्लेबाज बुलाया गया है। जबकि अनुराग यादव महज 3 गेंदों पर 1 रन बनाकर आउट हो गए।

हंसी-मजाक भरी कमेंट्री

इस बीच कमेंट्री बाक्स से कहा गया कि आईएएस की आदत है कुर्सी नहीं छोड़ कर जाने की पूरे 20 ओवर खेलेंगे। जब वीकेट कीपर ने हैलमेट बदला तो कहा गया कि वीकेटकीपर ने चालान से बचने के लिए हैलमेट पहना है। आईएएस की टीम ने 143 रन बनाए 20 ओवर में। जिसमें आईएएस गौरांग राठी ने अच्छी बल्लेबाजी की जिसके चलते आईपीएस इलेवन के सामने एक सम्मान जनक स्कोर खड़ा किया जा सका। मौजूदा वक्त में गौरांग बहराइच जिले में एसडीएम पद पर तैनात हैं। वहीं आईपीएस इलेवन की ओर कप्तान डीएस चौहान, संजीव सुमन और अखिल कुमार ने अकेले धुआधार पारी खेल कर आईपीएस इलेवन को एकतरफा मैच में जीत हासिल करवा दिया। इस मौके पर सूबे के मुख्य सचिव राजीव कुमार और डीजीपी सुलखान सिंह मौजूद रहें। पूरा ग्राउंड उस वक्त खुद को हंसने से नहीं रोक पाया जब कमेंट्री बाक्स से कहा गया कि आईएएस मैच से पहले मेहनत तो खूब करते हैं, लेकिन फिल्ड में आने के बाद बेहतर प्रदर्शन नहीं करते हैं।

ये भी पढ़ें:- लखनऊ में यूपी के पहले पुलिस विश्‍वविद्यालय बनाने की चल रही है योजना

ये भी पढ़ें-दो रुपए के सिक्के से ट्रेन को रोक कर करते थे लूट-पाट, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Share it
Top