यूपी में 1 दिसंबर से नए अंदाज में दिखेगी ट्रैफिक पुलिस, डीजीपी ने जारी किया निर्देश

यूपी में 1 दिसंबर से नए अंदाज में दिखेगी ट्रैफिक पुलिस, डीजीपी ने जारी किया निर्देशप्रतीकात्मक तस्वीर

लखनऊ। प्रदेश में यातायात व्यवस्था को नियंत्रित करने के लिए ट्रैफिक पुलिस की अलग पहचान के लिए सरकार ने वर्दी बदलने का फरमान जारी किया है।

डीजीपी सुलखान सिंह के आदेश के अनुसार 1 दिसंबर से ट्रैफिक पुलिस के सिपाही और हेडकांस्टेबल खाकी पैंट की जगह नीली पैंट पहनेंगे। बता दें कि दिल्ली में ट्रैफिक पुलिस यही वर्दी पहनती है।

उत्तर प्रदेश के डीजीपी सुलखान सिंह की अध्यक्षता में हुई स्टाफ बैठक में ट्रैफिक कर्मियों की वर्दी में खाकी पैन्ट की जगह नीली पैन्ट के संबंध में सभी अधिकारियों द्वारा सहमति प्रकट की गई। बैठक के बाद डीजीपी ने आदेश दिया है कि ट्रैफिक के हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल 1 दिसंबर 2017 से खाकी पैंट की बजाए डार्क ब्लू पैंट पहनेंगे।

ये भी पढ़ें- ट्रैफिक पुलिस की नौकरी : ना तो खाने का ठिकाना, ना सोने का वक्त

1 दिसम्बर से लागू होगा नया ड्रेस कोड

यूपी में ट्रैफिक पुलिस की वर्दी में सफेद और खाकी शामिल थी। अब ट्रैफिक पुलिस की अलग पहचान बनाने के लिए वर्दी का कलर बदलने का फरमान सुनाया गया है। उत्तर प्रदेश के डीजीपी सुलखान सिंह ने एक पत्र जारी कर इसका निर्देश दे दिया है। ट्रैफिक पुलिस का यह नया ड्रेस कोड 1 दिसम्बर से लागू कर दिया जाएगा।

पहले भी बदली जा चुकी है वर्दी

यूपी में ट्रैफिक पुलिस पहले भी खाकी वर्दी पहनते थे, लेकिन जब 2007 में मायावती मुख्यमंत्री बनी तो उन्होंने ट्रैफिक पुलिस वालों की वर्दी चेंज करने के आदेश दिए थे। उन्होंने ट्रैफिक पुलिस के लिए सफेद शर्ट और नीले रंग की पैंट पहनने का आदेश जारी किया था, लेकिन 2012 में समाजवादी सरकार बनी तो सीएम अखिलेश यादव ने फिर से ट्रैफिक पुलिस की वर्दी बदलने का आदेश जारी किया। इस बार बीजेपी की सरकार में वर्दी चेंज करने का आदेश जारी हुआ है। फिर से अब नीले रंग में ट्रैफिक पुलिस नजर आएगी।

ये भी पढ़ें- रोचक : ट्रैफिक सिग्नल में लाल, पीले और हरे रंग का ही इस्तेमाल क्यों होता है ? यहां जानिए

हर वर्ष वर्दी के लिए मिलेंगे 2250 रुपए

डीजीपी सुलखान सिंह ने वर्दी का कलर चेंज करने के लिए सभी अधिकारियों से राय मांगी थी। सब लोगों ने जब इसे सही बताया तो इसके बाद यह निर्देश जारी किया गया। इसके लिए पुलिस कर्मियों को हर साल 2250 रूपए देने का भी निर्देश दिया गया। ऐसे में 1 दिसम्बर से ट्रैफिक पुलिस अब बदले अंदाज में नजर आएगी।

संबंधित खबरें :- ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले इस आदमी के सामने तो पुलिस ने भी हाथ जोड़ लिए

Share it
Top