उन्नाव में एक दर्जन कोटेदारों पर गिरी गाज

Shrivats AwasthiShrivats Awasthi   30 Aug 2017 3:25 PM GMT

उन्नाव में एक दर्जन कोटेदारों पर गिरी गाजकोटेदारों को डीएसओ ने नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

उन्नाव। ई-पॉश मशीन से राशन वितरण न करने वाले एक दर्जन कोटेदारों पर जिला पूर्ति अधिकारी (डीएसओ) की नजरें टेढ़ी हो गई है। शहर और गंगाघाट नगर पालिका क्षेत्र के इन कोटेदारों को डीएसओ ने नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है। चेतावनी दी है कि यदि भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति होती है तो सीधे कोटा निलंबित कर दिया जाएगा। मालूम होकि शासन के आदेश पर जुलाई से प्रदेश की सभी नगरीय क्षेत्र की कोटे की दुकानों में ई-पॉश मशीनों से राशन वितरण शुरू करा दिया गया है।

वैसे जनपद में तीन नगर पालिका परिषद व 15 नगर पंचायतें हैं। इनमें कुल 183 राशन की दुकानें हैं। इन सभी राशन की दुकानों पर ई-पॉश (प्वाइंट आफसेल) मशीनें लगा दी गई हैं। दुकानों के कोटेदारों को स्पष्ट निर्देश जारी किए गए हैं कि वह ई-पॉश मशीन के जरिए ही कार्डधारकों को राशन वितरण करें। शासन के आदेश के बाद भी उन्नाव नगर पालिका परिषद के 6 और गंगाघाट नगर पालिका के 5 उचित दर विक्रेताओं ने ई-पॉश के जरिए राशन नहीं बांटा।

यह भी पढ़ें- कैबिनेट की मंजूरी : यूपी में गेहूं की तर्ज पर होगी धान की खरीद, 72 घंटे में किसानों को होगा भुगतान

यहां कोटेदारों ने मैनुअल ढंग से राशन वितरण किया है। इसकी जानकारी जब डीएसओ जीवेश कुमार मौर्या तक पहुंची तो उन्होंने इसे गंभीरता से लिया। तुरंत उन्होंने सभी कोटेदारों को नोटिस जारी की। निर्देश दिए कि एक सप्ताह के अंदर नोटिस के संबंध में अपना स्पष्टीकरण दें। डीएसओ ने बताया कि नोटिस में कोटेदारों से पूछा गया है कि ई-पॉश मशीन के जरिए राशन वितरण न करने पर क्यों न उनका कोटा निलंबित कर दिया जाए।

इन कोटेदारों को जारी हुई नोटिस

उन्नाव नगर पालिका परिषद के नरेंद्र बहादुर सिंह, तेज बहादुर सिंह, राधा सिंह, मेहताब आलम, रविशंकर पांडेय, नरेंद्र प्रताप सिंह। गंगाघाट नगर पालिका परिषद के ओमप्रकाश, विनोद कुमार, गंगानारायण, मुन्नी देवी व संगीता।

यह भी पढ़ें- देश में आम के बाग दूर करेंगे चारा संकट

जिला पूर्ति अधिकारी जीवेश कुमार मौर्या ने बताया ई-पॉश मशीन से राशन वितरण न करने पर सस्पेंड होगा कोटा अभी पहले चरण में सभी नगरीय क्षेत्र के कोटेदारों को मशीनें उपलब्ध करा दी गई हैं। इसलिए यहां के उचित दर विक्रेताओं को हर हाल में पॉश मशीन के माध्यम से ही राशन वितरण करना होगा। जो भी इसमें लापरवाही करेगा तो उसका कोटा तो निलंबित किया ही जाएगा साथ ही उसके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top