एनटीपीसी हादसे में बाद एसडीआरएफ के गठन में आई तेजी

एनटीपीसी हादसे में बाद एसडीआरएफ के गठन में आई तेजीएनटीपीसी हादसे में बाद एसडीआरएफ के गठन में आई तेजी

लखनऊ। यूपी के रायबरेली स्थित ऊचांहार क्षेत्र में एनटीपीसी के पॉवर प्लांट में बॉयलर फटने से करीब 32 लोगों की जान चली गई, जबकि 100 से ऊपर घायलों का अस्पतालों के इलाज जारी है।

इतने बड़े हादसे के बाद यूपी सरकार की नींद टूटी और उसने ठंडे बस्ते में पड़े एसडीआरएफ (राज्य आपदा रेस्पांस फोर्स) के गठन में तेजी दिखाते हुए एडीजी पीएसी राज कुमार विश्वकर्मा की अगुवाई में एक अहम बैठक बुलाई गई और एसडीआरएफ के मसौदे को जल्द अमलीजामा पहनाने के लिए कार्य योजना बनाने का निर्देश दिया है। वहीं माना जा रहा है इस पूरी कवायद के पीछे एनडीआरएफ (नेशनल आपदा रेस्पांस फोर्स) का वह सराहनीय कार्य है, जिसमें वक्त रहते एनटीपीसी के घायलों को एनडीआरएफ की टीम ने रेस्कयू कर अस्पतालों तक पहुंचाया और राख के गुबार से एक मजदूर के शव को खोज निकाला।

ये भी पढ़ें - हमें एनटीपीसी से पूछने हैं ये 15 सवाल

एडीजी पीएसी राज कुमार विश्वकर्मा का कहना है कि, आने वाले समय में पीएसी का स्थापना दिवस है। इसके चलते प्रदेश भर के पीएसी के अधिकारियों को लखनऊ बुलाया गया था। इस बैठक में पीएसी जोन के अधिकारियों से एसडीआरएफ के संबंध में चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि एसडीआरएफ के गठन के लिए शासन से अनुमति मिल गई है। एसडीआरएफ संबंधित जितनी भी दुश्वारियां है उसे इस बैठक में सभी जोन के पीएसी अधिकारियों को दूर करने के निर्देश दिए गये हैं। वहीं एसडीआरएफ के गठन की बात करे तो इसकी कवायद पीएसी मुख्यालय में दो महीने पहले ही शुरू कर दी गई थी, लेकिन शासन से कुछ कारणों के चलते इसे अमलीजामा पहनाने में समय लग रहा था।

ये भी पढ़ें - एनटीपीसी हादसा: एक गाँव के दो सगे भाइयों समेत पांच युवकों ने गंवाई जान

हालांकि राज्य सरकार ने एसडीआरएफ के लिए सरोजनीनगर क्षेत्र में जमीन मुहैया कराने के साथ-साथ इसमें आने वाले बजट की स्वृकित दे दी है। वहीं इस दौरान रायबरेली के एनटीपीसी प्लांट में बॉयलर फटने से सैकड़ों मजदूरों और अधिकारियों की जान शासत में फंस गई थी, जिसे देखते हुए राज्य बचाव टीम को एनडीआरएफ की टीम को मौके पर बुलाने का जरुरत समझ आई। इसके बाद ही सरकार ने एसडीआरएफ के गठन में तेजी लाने के निर्देश दिए। वहीं दूसरी ओर पीएसी की इस बैठक में कई कार्य योजना पर चर्चा हुई, जिसे डीजीपी सुलखान सिंह पीएसी के स्थानपा दिवस पर घोषित करेंगे।

ये भी पढ़ें - एनटीपीसी विस्फोट: ‘किसी इंसान को पिघलाने के लिए पर्याप्त थी गर्मी’

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top