गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में फिर थमीं नवजातों की सांसें, 48 घंटे में 30 बच्चों की मौत

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में फिर थमीं नवजातों की सांसें, 48 घंटे में 30 बच्चों की मौतफाइल फोटो।

लखनऊ। गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में फिर से मामूलों की मौत का सिलसिला जारी है। पिछले 48 घंटों में यहां 30 मासूमों की मौत हो गई। इन बच्चों की जान इंसेफेलाइटिस की वजह से हो गई। जबकि मेडिकल कॉलेज प्रशासन की मानें तो इंसे‍फेलाइटिस से होने वाली मौतों के आंकड़े में कमी आई है।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज के सामुदायिक चिकित्सा विभाग के प्रमुख डॉ. डीके श्रीवास्तव ने बताया,“ पिछले 48 घंटों में यहां 30 बच्चों की मौत हो गई है। एक नवंबर से लेकर तीन नवंबर के बीच यहां 30 मासूमों की जान चली गई। मरने वाले अधिकांश बच्चे एक महीने से कम से थे। यहां 48 घंटों के बीच 15 नवजातों की मौत हो गई, जबकि मरने वाले 6 बच्चों की आयु एक महीने से ऊपर थी। इन बच्चों की जान इंसेफेलाइटिस की वजह से हो गई।”

यूपी : बीआरडी मेडिकल कॉलेज में आखिर कब थमेगा बच्चों की मौत का सिलसिला

इसी अस्पताल में अगस्त माह में ऑक्सीजन की सप्लाई रुकने से दर्जनों बच्चों की मौत हो चुकी है। इतनी बड़ी लापरवाही के बाद भी अस्पताल प्रशासन सुधरने का नाम नहीं ले रहा। बीआरडी में ऑक्सीजन सप्लाई रुकने से बड़ी संख्या में बच्चों की मौत से पूरा देश सन्न रह गया था। यूपी सरकार की इस मामले में काफी किरकिरी हुई थीझ। बाद में सरकार को इस पूरे मामले में सफाई देनी पड़ी थी। इस मामले में बीआरडी मेडिकल कालेज के तत्कालीन प्राचार्य डा. राजीव मिश्र, उनकी पत्नी डा. पूर्णिमा शुक्ला, डा. कफील खान सहित कुल 9 लोगों को जेल जाना पड़ा। इसके बावजूद बीआरडी मेडिकल कालेज में हर रोज मासूमों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है।

ये भी पढ़ें-गोरखपुर : यहां परिजन खरीदकर लाते हैं मास्क और दस्ताना, तब होता है पोस्टमार्टम

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top