हम अगर 10 फीसदी भी चोरी रोक पाएं तो 60 हजार करोड़ रुपए बचा सकते हैं : सिद्धार्थनाथ सिंह

हम अगर 10 फीसदी भी चोरी रोक पाएं तो 60 हजार करोड़ रुपए बचा सकते हैं : सिद्धार्थनाथ सिंहपत्रकारों को संबोधित करते सिद्धार्थनाथ सिंह।

लखनऊ। प्रदेश सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने आज एक पत्रकार वार्ता में कहा कि जब जमीन पर काम होगा तभी उत्तम प्रदेश बनेगा। भारत तब बढ़ेगा जब यूपी बढ़ेगा। इसीलिए यूपी के मुखयमंत्री जब नीति आयोग के कार्यकर्म में गए थे तब उन्होंने नीति आयोग को निमंत्रण दिया था। मिलकर रास्ता निकाला जाएगा। इसी को आगे बढ़ाएंगे। 10 मई को नीति आयोग के उपाध्यक्ष सीईओ और भारत सरकार से सात सचिव आएंगे।

25 लोगो का डेलिगेशन आएगा। आप विजन कर सकते हैं। मगर जमीन पर नहीं उतारा जाएगा। तो वह मतिभ्रम होगा। योगी जी का मानना है कि जमीन पर उतारना जरूरी है। डेलिगेशन के साथ सीएम योगी भी बैठेंगे। सात बिंदु चिन्हित हैं। योजना को जमीन पर लाने के लिए प्रमुख सचिव मुकुल सिंघल हिंगे। उन्होंने कहा कि सिस्टम में व्याप्त चोरी अगर हम 10 फीसदी चोरी रोककर 60 हजार करोड़ रुपए बचा सकते हैं।

इन सात बिंदुओं पर होगी बात

ट्रांसफॉर्मिंग उत्तर प्रदेश का ओवरव्यू देंगे। दूसरा कृषि का बिन्दू होगा। इनकम किसान की डबल करने पर बात होगी। बदलाव और तकनीक पर चर्चा। तीसरा खजाना खाली है। बिजनेस आसान हो। निवेशक को लालफीताशाही की जगह रेड कार्पेट मिले। विस्तार से चर्चा होगी। चौथा बिंदु इम्प्रूविंग हेल्थ आउटकम होगा।

ये भी पढ़ें- झांसी में बोले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दो साल में बुंदेलखंड में खत्म होगी पानी की समस्या

मातृ शिशु पोषण और स्वास्थ्य पर बात होगी। पांचवां बिन्दू पोषण। छठा ग्रामीण विकास सफाई और स्वच्छ पेयजल। साफ़ पानी खासतौर पर बुंदेलखंड पर चर्चा होगी। सातवां बिन्दू एजुकेशन होगा। आगे नौकरी परक बनाने पर जोर देंगे। प्रदेश में साक्षरता बढ़ाने पर बात होगी। बहुत ही अहम् मीटिंग होगी। यूपी को बदलने के लिए ये बहुत जरूरी होगा। यूपी एक औद्योगिक राज्य बनेगा। सफाई पर बेहतर काम होगा। इस मीटिंग से नयी रोशनी और दिशा मिलेगी।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.