बीएचयू में छात्राओं के साथ हुई छेड़छाड़ मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार

बीएचयू में छात्राओं के साथ हुई छेड़छाड़ मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार

काशी हिंदू विश्वविद्यालय।

लखनऊ/वाराणसी (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में स्थित काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में पथराव, आगजनी और छात्रा से छेड़छाड़ के मामले में तीन महीने बाद एक की गिरफ्तारी हुई है। यह जानकारी एक पुलिस अधिकारी ने दी।

बनारस के पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह के ने कहा कि 21 सितंबर को विश्वविद्यालय परिसर में बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स की एक छात्रा से छेड़छाड़ के आरोपी शनि यादव को गिरफ्तार किया गया है। जबकि एक अन्य आरोपी की तलाश की जा रही है। शनि लंका क्षेत्र के सीरगोवर्धन गांव का निवासी है और वह एक अन्य युवती से छेड़खानी के मामले में पहले भी गिरफ्तार हो चुका है।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज एवं मोबाइल फोन के सर्विलांस की मदद से क्षेत्राधिकारी ए.पी. सिंह के नेतृत्व में स्थानीय पुलिस के एक दल ने उसे गिरफ्तार किया।

ये भी पढ़ें: बीएचयू में छात्र नेता की गिरफ्तारी के बाद छात्रों का उपद्रव, पुलिस को सौंपे गये उपद्रवी छात्रों के नाम

सिंह के मुताबिक, 21 सिंतबर की शाम उसने बीएचयू मुख्यद्वार से एक अन्य युवक के साथ मोटरसाइकिल पर सवार होकर प्रवेश किया और भारत कला भवन के पास छात्रा को अकेली देखकर उसके साथ छेड़खानी की और सीर गोवर्धन द्वार (विश्वविद्यालय के दूसरे गेट) से भाग गया। उसके साथ एक और युवक था, जिसके बारे में महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे हैं। उसे शीघ्र गिरफ्तार किए जाने की उम्मीद है।

गौरतलब है कि इस घटना के बाद सैकड़ों छात्राओं ने आरोपियों की गिरफ्तारी एवं पर्याप्त सुरक्षा की मांग को लेकर बीएचयू परिसर में कई दिनों तक धरना-प्रदर्शन किया था। बाद में इसी मुद्दे को लेकर बीएचयू के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी को लंबी छुट्टी पर भेज दिया गया था।

ये भी पढ़ें: यूजीसी ने दिया बीएचयू व एएमयू से हिंदू और मुस्लिम शब्द हटाए जाने का सुझाव

ये भी पढ़ें- बीएचयू विवाद : “कुर्ते में हाथ डाला था, कोई कहां तक बर्दाश्त करे”

Share it
Top