आधुनिक तकनीक और हाईटेक मशीनों की जानकारी के लिए यहां आएं किसान

आधुनिक तकनीक और हाईटेक मशीनों की जानकारी के लिए यहां आएं किसानलखनऊ के स्मृति उपवन में चल रहा तीन दिवसीय पांचवां अंतरराष्ट्रीय एग्री हॉर्टी टेक

लखनऊ के स्मृति उपवन में चल रहा तीन दिवसीय पांचवां अंतरराष्ट्रीय एग्री हॉर्टी टेक कृषि मेला, देश-विदेश से आई कंपनियों से जानकारी जुटा रहे किसान

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार एवं पीएचडी चैम्बर ऑफ कॉमर्स ऐंड इंडस्ट्री की तरफ से लखनऊ आशियाना स्थित स्मृति उपवन में पांचवां अंतरराष्ट्रीय कृषि सम्मेलन एग्री हॉर्टी टेक मेला मंगलवार से शुरू हो गया। तीन दिवसीय सम्मेलन में बिहार के राज्यमंत्री डॉ. प्रेम कुमार बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहे। सम्मेलन में कृषि की आधुनिक तकनीक और मशीनों की जानकारी पाने के लिए देश भर से किसान जुट रहे हैं। कृषि मेले में किसानों को जापान, अमेरिका, इटली समेत कई देशों की बड़ी कम्पनियां भी अपने उत्पादों की जानकारी देने के लिए आईं हैं।

पहले दिन प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही के साथ ही प्रमुख सचिव कृषि अमित मोहन प्रसाद, प्रमुख सचिव राजीव कुमार, सुलभ इंटरनेशनल के राष्ट्रीय प्रमुख डॉ. बिन्देश्वर पाठक, इंडियन ऑयल के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर अभिनाष वर्मा, अमूल कम्पनी के सीईओ नरेंद सिन्हा एवं पीएचडी चेम्बर ऑफ कॉमर्स ऐंड इंडस्ट्री के डायरेक्टर आरके सरन, प्रेसीडेंट अनिल खेतान मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें- बाराबंकी : कृषि मेला लगाकर किसानों को दी जा रही योजनाओं की जानकारी

तीन दिवसीय इंटरनेशनल एग्रीहॉर्टि टेक मेले का दूसरा दिन भी पहले दिन जैसा ख़ास रहा। उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री प्रो. एस.पी सिंह बघेल एवं श्रम सेवा योजना विभाग उत्तर प्रदेश के राज्यमंत्री मनोहर लाल मुन्नू कोरी भी मौजूद रहे।

दोनों ही मंत्रियों ने पहुंचकर इस मेले में कृषि और इससे जुड़े उद्द्योगों से सम्बंधित सैंकड़ो देशी और विदेशी कंपनियों, कृषि वैज्ञानिक और किसानों से जुड़ी तकनीकों का जायजा लिया और लोगों की राय जानी। मंत्रियों के साथ-साथ मत्स्य विभाग के आईएएस अधिकारी डॉ. सुधीर बोबडे ने भी पूरे मेले का जायजा लिया।

ये भी पढ़ें- किसान मेला- कृषि विशेषज्ञों ने किसानों को बताए कम लागत और ज्यादा उत्पादन बढ़ाने के उपाय

कैबिनेट मंत्री एसपी सिंह बघेल और राज्य मंत्री मनोहर लाल ने सभी देशी और विदेशी कम्पनीयों के कैम्पों में जाकर अधिकारियों से बातचीत की जिसमें जापान से आई हुई कंपनियों के भी अधिकारियों से मुलाकात की और उनकी तकनीकों के बारे में पूंछा। मंत्रियों को जापान कंपनी के अधिकारियों ने कृषि से जुड़े उपकरणों को संचालित भी करके दिखाया।

मेले में किसानों को प्रधानमंत्री सफल बीमा योजना के बारे में भी जानकारी दी जा रही है। साथ ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से किसानों को ऋण बारे में जानकारी देने के लिए भी स्टॉल लगाया गया है। किसानों के लिए कौन से लोन उपलब्ध हैं इसकी जानकारी भी दी जा रही है। साथ ही ये भी बताया जा रहा है कि किसान किस फसल का बीमा कैसे करा सकते हैं।

ये भी पढ़ें- पंजाब-हरियाणा के किसान को पीछे छोड़ेगा यूपी का किसान : कृषि मंत्री

महिला कुश्ती और ड्रोन मशीन रही आकर्षण का केंद्र

पूर्व राष्ट्रपति स्व. अब्दुल कलाम के हाथों सम्मानित हो चुके कृषि वैज्ञानिक मिलिन्द राज की नई ड्रोन मशीन इंडियन हाक आकर्षण का केंद्र रही। सम्मेलन में कृषि के साथ ही रंगारंग कार्यक्रम भी हुए। पुरुष और महिला टीमों की कबड्डी और कुश्ती ने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा।

ये भी पढ़ें:- यूपी और मध्य प्रदेश की ई-नाम सुविधा देश में सबसे अच्छी : कृषि मंत्री

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top