पशु की खरीद-बिक्री के लिए भटकने की जरूरत नहीं, केंद्र सरकार ने शुरू की योजना

पशु की खरीद-बिक्री के लिए भटकने की जरूरत नहीं, केंद्र सरकार ने शुरू की योजनाअभी ज्यादातर गाय भैंस की खरीद पशु बाजारों में होती है। फोटो- गांव कनेक्शन

पशु खरीदने के लिए अब मेलों या विभिन्न राज्यों में जाकर भटकने की जरूरत नहीं है। अच्छी नस्ल के पशुओं को खरीदने और उनसे जुड़ी जानकारी के लिए पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन विभाग ने केंद्रीय पशु पंजीकरण योजना शुरूआत की है।

यह योजना देश के चार राज्यों (हरियाणा, राजस्थान, आंधप्रदेश, गुजरात) में चल रही है। योजना के बारे में राजस्थान के अजमेर जिले में केंद्रीय पशु पंजीकरण योजना के सहायक पंजीकार बलबीर गैना बताते हें, "हरियाणा, राजस्थान, आंधप्रदेश, गुजरात ये वो राज्य है जो गाय-भैंस की देसी प्रजातियों पर काम कर रहे है। जैसे हरियाणा के रोहतक में मुर्रा हरियाणा प्रजाति, अजमेर के राजस्थान में गिर प्रजाति, अहमदाबाद में जफरावादी, सूरती, मेहसाना और गोवंश में गिर और कांकरेज और आंधप्रदेश अंगोल, मुर्रा जैसी प्रजातियों पर काम कर रही है।"

यह भी पढ़ें- गाय भैंस से ज्यादा दूध चाहिए तो दें संतुलित आहार ... ये है बनाने की पूरी विधि

अपनी बात को जारी रखते हुए गैना बताते हैं, “इन सभी राज्यों में इस योजना के तहत उच्च गुणवत्ता वाले देसी नस्लों का चयन करके उनके बारे में ई-पशुहाट पोर्टल में डाला जाता है। ताकि किसान उस किसान से बात कर सके और पशुपालक उससे या उसके क्षेत्र से पशु को खरीद सके।”

पोर्टल में पशुओं की नस्ल, पशुओं की बीमारियों सहित सरकार की पशुपालकों के लिए शुरू की गई योजनाओं की जानकारी भी उपलब्ध करवाई गई है। बलबीर आगे बताते हैं, “इस योजना के जिन उच्च गुणवत्ता के पशुओं को चयन किया जाता है उनको सम्मानित भी किया जाता है। अजमेर में भी कई पशुपालकों ने विभाग के जरिए अपने पशुओं की जानकारी वेबसाइट पर शेयर की थी तथा कई पशु इसके जरिए बेचे और खरीदे भी गए।"

इस योजना के तहत उच्च गुणवत्ता वाले पशुओं को चयन करके केंद्र सरकार द्वारा शुरू किए गए ई पशुहॉट पोर्टल में डाला जाता है। ताकि किसानों को पशु खरीदने में मदद मिल सके और बिचौलियों से छुटकारा मिल सके। इस योजना के तहत पशुओं की नस्ल, उनकी उम्र, ब्रीड सहित उससे जुड़ी छोटी से छोटी जानकारी उपलब्ध हैं। साथ ही मोबाइल नंबर और स्थान भी शामिल है।

यह भी पढ़ें- 50 हजार से 1 लाख रुपए की ये मशीनें लगाकर हर महीने हजारों रुपए कमा सकते हैं बेरोजगार

पशु पंजीकरण उन पशुओं की सूची रखती है जो कि पशु पंजीकरण पुस्तक के नियम और नियमावली पर खरा उतरते है। इस पंजीकरण के तहत पंजीकृत पशुपालकों को पुरस्कार और प्रमाण पत्र प्रदान किए जाते है जो पशुपालकों को पशु खरीदने और बेचने में मदद करते है।

अगर आप हरियाणा, राजस्थान, आंधप्रदेश, गुजरात में रहते है और आपके पास उच्च गुणवत्ता वाले देसी नस्लों के पशु है तो उनका पंजीकरण इन नंबर पर संपर्क करके करा सकते हैं:

उप पंजीकार, केंद्रीय पशु पंजीकरण योजना,

शीलाबाईपास, मैन दिल्ली रोड रोहतक (हरियाणा)

फोन नंबर- 01262 282246

सहायक पंजीकार, केंद्रीय पशु पंजीकरण योजना,

c/o कुक्कुट प्रशिक्षण केंद्र, पशुपालन परिसर

शारूत्रीनगर, अजमेर राजस्थान 523001

फोन नंबर- 0145 2427113

सहायक पंजीकार, केंद्रीय पशु पंजीकरण योजना

मकान नंबर 58-157, राघवाचार्य गली, संघतापाटा,

ओंगल (आंधप्रदेश)

फोन नंबर- 08592-232049

उप पंजीकार, केंद्रीय पशु पंजीकरण योजना,

ब्लॅाक-ओ-17, न्यू अहमदाबाद (गुजरात)

फोन नंबर 079-2268243

यह भी पढ़ें- इस घास को एक बार लगाने पर कई साल तक मिलेगा हरा चारा

ये भी पढ़ें- भैंसा भी बना सकता है आपको लखपति, जानिए कैसे ?

ये भी पढ़ें- आप भी ऐसे शुरु कर सकते हैं डेयरी का व्यवसाय

Share it
Top