कबाड़ से कलाकारी: सूखी बेल और जड़ों को जोड़कर बनेगा अनोखा लैंपशेड

गुरप्रीत सिंह पेशे से इंजीनियर हैं और उनका शौक है बेकार लगने वाली चीजों को खूबसूरत और उपयोगी चीजों में बदलना। उनका इस बार का 'कबाड़ से कलाकारी' कॉलम खासतौर पर बागवानी के शौकीनों के लिए है।

Gurpreet SinghGurpreet Singh   1 July 2019 5:33 AM GMT

कबाड़ से कलाकारी: सूखी बेल और जड़ों को जोड़कर बनेगा अनोखा लैंपशेड

आपके किचन गार्डन या छत पर बने छोटे से बगीचे में कभी-कभी कुछ ऐसी चीजें निकल आती हैँ जो पहली नजर में एकदम बेकार नजर आती हैं। जैसे, सूखी हुई बेलें, किसी पुराने टूटे गमले में उस पौधे की जड़ें जो बरसों से लगा था फिर अचानक सूख गया। जब भी आप उसे फेंकने चले तो उससे जुड़ी कोई याद आ गई और आपने उसे छत के कोने में बने स्टोर रूम में रख दिया।

अब उसे निकाल लाइए बाहर, क्योंकि हम उससे बनाने जा रहे हैं एक लैंपशेड जो हमेशा आपके घर में रहेगा, खूबसूरती बढ़ाएगा और पुरानी यादें ताजा करता रहेगा।

आपको चाहिए: सूखी बेलें, जड़ें, घर में कारपेंटर के काम के बाद बचा हुआ लकड़ी का फट्टा, पुरानी सीडी, बाइंडिंग वायर, बिजली का तार, होल्डर, सजावटी चिड़िया इसी तरह की कुछ चीजें।

कैसे बनाना यह जानने के लिए वीडियो देखिए:

आपको चाहिए एक सूखी बेल और सूखी हुई जड़ें जिन्हेंं गमला तोड़कर बाहर निकाला है।


एक सीडी में छेदकर के उसे इन जड़ों के बीच में होल्डर फिट करने के लिए लगाएं।


लकड़ी के फट्टे में सूखी हुई बेल को पेंंच के सहारे फिक्स कर दें।


बेल के सिरे पर बाइंडिंग वायर के सहारे जड़ों को इस तरह लटका दें।


अब होल्डर में बल्ब फिट करके तार को ऊपर निकाल लें।


अब इस लैंपशेड के साथ लकड़ी के फट्टे को दीवार के साथ टिका दें।


लकड़ी के फट्टे को बाइंंडिंग तार की मदद से दीवार से फिक्स कर दें।


लैंपशेड के बेस को मजबूूती देने और खूबसूरती बढ़ाने के लिए इसके नीचे लकड़ी केे ब्लॉक पर फूलदान रख सकते हैं।


कुछ इस तरह लगेगा सूखी बेल और जड़ों वाला यह ग्रीन लैंपशेड।













More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top