यहां के किसान साल में दो बार करते हैं धान की खेती 

यहां के किसान साल में दो बार करते हैं धान की खेती ज्यादातर किसान बारिश के बाद ही धान की रोपाई करते हैं।

रबीशकुमार, स्वयं कम्युनिटी रिपोर्टर

फैजाबाद। ज्यादातर किसान बारिश के बाद ही धान की रोपाई करते हैं, लेकिन सिंचाई की सुविधा होने पर किसान अप्रैल में ही धान की खेती कर रहे हैं।

फैजाबाद जिला मुख्यालय से लगभग 25 किलोमीटर सोहावल तहसील के देवराकोट गाँव में धान की रोपाई शुरू हो गयी। यहां के गाँव में किसान लालमति धान की रोपाई कर रहे हैं। देवराकोट के किसान संजीव सिंह कहते हैं, “सिंचाई की निजी व्यवस्था होने के कारण फसल की सिंचाई में कोई परेशानी नहीं होगी, खेत में दो बार धान की की पैदावार करते हैं।”

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

लालमति धान की 90 दिनों की फसल होती है, यहां के किसान पिछले कई साल से मार्च में धान की नर्सरी लगाते हैं और अप्रैल में रोपाई कर देते हैं। इस मौसम में भी अच्छी पैदावार होती है साल भर में उसी खेत साल भर में दो बार धान की फसल ली जाती है मार्च के महीने में एक बार धान की रोपाई की जाती है उसके बाद में जुलाई के महीने में की जाती है धान की कटाई के बाद दूसरी फसल लगा लेते हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top