उत्तर प्रदेश के गोरखपुर लोकसभा सीट और फूलपुर लोकसभा सीट के लिए उपचुनाव 11 मार्च को होंगे  

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   9 Feb 2018 3:02 PM GMT

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर लोकसभा सीट और फूलपुर लोकसभा सीट के लिए उपचुनाव 11 मार्च को होंगे  उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

नयी दिल्ली। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर व फूलपुर और बिहार की अररिया लोकसभा सीटों पर 11 मार्च को उपचुनाव होंगे। चुनाव आयोग ने शुक्रवार को जानकारी देते हुए कहा कि मतगणना 14 मार्च को होगी।

गोरखपुर से सांसद योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद यह सीट खाली हो गई थी, जबकि फूलपुर के सांसद केशव प्रसाद मौर्य के उपमुख्यमंत्री बनने के बाद इन सीटों पर चुनाव होना आवश्यक था। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के सांसद मोहम्मद तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद अररिया सीट खाली हो गई थी।

उत्तर प्रदेश विधान परिषद में चुने जाने के बाद योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्य ने पिछले साल सितंबर में लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और केशव प्रसाद मौर्य दो उपमुख्यमंत्रियों में से एक है। दिनेश शर्मा दूसरे उपमुख्यमंत्री हैं।

इस बात की अटकलें लगाई जा रही हैं कि पिछले साल राज्यसभा से इस्तीफा देने वाली बसपा प्रमुख मायावती फूलपुर उपचुनाव में मैदान में आ सकती हैं, लेकिन पार्टी की तरफ से अभी तक इस बारे में अभी आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है। उत्तर प्रदेश के उपचुनाव सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए परीक्षा साबित होगी क्योंकि इन्हें उनकी सरकार की लोकप्रियता से जोड़कर देखा जा रहा है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के भाजपा के साथ हाथ मिलाने के बाद राज्य में यह पहला उपचुनाव होगा जिससे इसकी महत्ता बढ़ गई है। इस उपचुनाव को राजद प्रमुख लालू प्रसाद के लिए प्रतिष्ठा के प्रश्न के तौर पर देखा जा रहा है क्योंकि चारा घोटाला मामलों में सजा सुनाए जाने के बाद उनके राजनीतिक भवष्यि पर सवाल उठने लगे हैं। राजद ने मोदी लहर के बावजूद 2014 लोकसभा चुनावों में यह सीट जीती थी।

राजनीति से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

तीनों उपचुनावों की अधिसूचना 13 फरवरी को जारी की जाएगी जिससे नामांकन पत्र भरने की प्रक्रिया शुरू होगी। चुनाव लड़ने के लिए पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि 20 फरवरी होगी। पत्रों की छंटनी 21 फरवरी को की जाएगी और 23 फरवरी तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकते हैं। आयोग ने कहा कि मतदान 11 मार्च और मतगणना 14 मार्च को होगी।

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top