झाड़ू के कैनवस पर नाचेगी बैले डांसर

गुरप्रीत सिंह पंजाब के बिजली विभाग में सुपरिटेन्डिंग इंजीनियर हैं। लेकिन खिलौनों से खेलने का उनका शौक अभी तक गया नहीं। बस फर्क यह है कि उनके खिलौने होते हैं ग्राइंडर, बर्नर, कटर जैसे औजार। इनके जरिए गुरप्रीत बेकार लगने वाली चीजों को खूबसूरत और उपयोगी चीजों में बदल देते हैं। कबाड़ से कलाकारी, इस कॉलम में गुरप्रीत हमें सिखाएंगे कि किस तरह बड़ी आसानी से हम भी ऐसा ही कर सकते हैं।

झाड़ू के कैनवस पर नाचेगी बैले डांसर

एक कहावत है कि खूबसूरती देखने वाले की आंखों में होती है उसी तरह किसी बेकार सी लगने वाली चीज में भी उपयोगिता देखना किसी रचनात्मक दिमाग के ही बस की बात है। गुरप्रीत ऐसे ही हैं, पर अगर थोड़ी कल्पनाशीलता का इस्तेमाल करें तो हम भी उनके जैसी अनोखी नजर पा सकते हैं।

आज गुरप्रीत हमें बताएंगे कि हम कैसे मामूली सी लगने वाली सींक की झाड़ू को एक अनोखे कैनवस में बदल सकते हैं । हम बनाने जा रहे हैं झाड़ू का कैनवस जिस पर धागे से नाचती बैले डांसर नजर आएगी। फोटो और साथ में दिए निर्देशों के आधार पर आप भी ऐसा करने की कोशिश कर सकते हैं :


- सबसे पहले साधारण सींक वाली झाड़ू के तिनकों को अलग करके रखें

- इनके सिरे टेढ़े-मेढ़े हों तो काटकर सीधे कर लें

- किसी गोंद की मदद से इन्हें एक लकड़ी के टुकड़े पर चिपका लें

- इसके लिए 20-22 इंच का लकड़ी का टुकड़ा लें

- तिनके एक के ऊपर एक ना रखें ये साथ–साथ रहें इसलिए सटा कर चिपकाएं

- इनके नीचे एक इंच सवा इंच मार्जिन छोड़ना है




- अब इसके ऊपर लकड़ी का दूसरा टुकड़ा चिपकाना है

- इससे मजबूती और खूबसूरती दोनों बढ़ जाएंगे

- अच्छी तरह चिपकें इसलिए इस पर वजन रख दें

- अच्छी तरह से चिपकाने के लिए स्क्रू की मदद से टाइट भी कर सकते हैं






- जो भी इमेज आपको झाड़ू पर बनानी हो उसे पहले एक कागज पर बनाकर अपने सामने रख लें

- अब इसी कागज को देखकर चॉक की मदद से तिनकों पर वह आकृति उकेरने की कोशिश करें








- इसमें थोड़ी तकलीफ होती है क्योंकि धागा अक्सर तिनकों में उलझ जाता है।


-









- आखिर में आपकी मेहनत कुछ ऐसी लगेगी। क्यों भूल गए सारी तकलीफ!






















Share it
Top