अच्छी नींद चाहिए तो टेंशन को पास न फटकनें दें

अच्छी नींद चाहिए तो टेंशन को पास न फटकनें देंअच्छी नींद न आने से निर्णय लेने की क्षमता प्रभावित होती है। अवसाद घेर लेता है, दिल की समस्याएं पैदा होती हैं और मोटापा परेशान करता है।

लखनऊ। (आईएएनएस)। नींद न आना एक मनोरोग होता जा रहा है। ऐसे व्यक्ति भी हैं, जो बिस्तर पर लेटने के 30 मिनट या इससे भी कम में सो जाते हैं और रात में एक बार से ज्यादा नहीं जागते, समझिए उन्हें अच्छी नींद आती है।

इन व्यक्तियों का सेहत भी ठीक रहती है। यह शोधकर्ताओं का कहना है। अमेरिका के गैर-लाभकारी नेशनल स्लीफ फाउंडेशन (एनएसएफ) के अनुसार, बिस्तर पर ज्यादा समय तक नींद लेना (कुल समय का 85 फीसदी) और नींद आने से पहले 20 मिनट तक या उससे कम समय तक जागना अच्छी गुणवत्ता वाली नींद कहलाती है।

शोधकर्ताओं ने नींद का राज जानने के लिए कुछ तकनीकी उपकरणों का इस्तेमाल किया। गैजेट्स को नींद के दौरान पहना गया या बिस्तर पर रखा गया। इसके बाद उस बिस्तर पर सोने वाले की हर रात की गहरी और हल्की नींद का विश्लेषण किया गया।

लाखों अमेरिकी नींद के लिए तकनीकी उपकरण का इस्तेमाल कर रहे हैं। इन उपकरणों से व्यक्ति को नींद में ब्रह्मांड की झलक मिलती है। उसे काल्पनिक ब्रह्मांड में विचरना अच्छा लगता है। उस समय उसकी नींद बहुत गहरी होती है।
मैक्स हिरशकोविट्ज, एनएसएफ के अध्यक्ष

एनएसएफ द्वारा हाल की में जारी स्लीप हेल्थ इंडेक्स के अनुसार, 27 फीसद लोग नींद में जाने से पहले औसतन 30 मिनट से ज्यादा समय लेते हैं।

अच्छी नींद न आने से निर्णय लेने की क्षमता प्रभावित होती है। अवसाद घेर लेता है, दिल की समस्याएं पैदा होती हैं और मोटापा परेशान करता है। यानी व्यक्ति के सामान्य स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है। इस शोध की रिपोर्ट पत्रिका ‘स्लीप हेल्थ’ में का प्रकाशित हुई है। अच्छी नींद अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी है। अपने आहार में कुछ चीजों को शामिल करके और छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखकर अच्छी नीदं ली जा सकती है।

चेरी

चेरी में प्रचुर मात्रा में मेलाटोनिन होता है जोकि शरीर के आंतरिक चक्र को नियमित करने में मदद करता है। सोने से पहले एक मुट्ठी चेरी का सेवन अच्छी नींद लेने में मददगार साबित होता है।

दूध

रात को बिस्तर पर जाने से पहले एक गिलास गर्म दूध पीना काफी फायदेमंद हो सकता है। दूध में मौजूद ट्राईपटोफेन और सिरोटोनिन अच्छी नींद लेने में मददगार होता है। दूध तनाव दूर करने में भी सहायक होता है।

केला

केले में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो मांस-पेशियों को तनावमुक्त करते हैं। इसमें मौजूद मैग्निशियम और पोटैशियम अच्छी नींद को बढ़ावा देते हैं। साथ ही ये विटामिन बी6 का भी एक अच्छा माध्यम है जो सोने से जुड़े हार्मोन्स के स्त्रावण में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।

हर्बल चाय

अच्छी नींद के लिए कैफीन और एल्कोहोल से परहेज करना ही बेहतर है लेकिन अगर आप रात को सोने से पहले हर्बल चाय पीते हैं तो आप अपने लिए एक अच्छी नींद का इंतेजाम कर लेते हैं।

महत्वपूर्ण बातें

  • रात को सोने से पहले तलवे पर सरसों के तेल की मालिश से भी अच्छी नींद आती है और दिमाग शांत होता है।
  • रात को सोने से पहले अच्छी तरह अपने हाथ-पैर साफ कर लें। साथ ही ये भी निश्चित कर लें कि आपके सोने की जगह साफ-सुथरी हो।
  • संगीत सुनते हुए सोने या किताब पढ़ते हुए सोने से भी अच्छी नींद आती है।
  • अपने दिमाग को शांत करें और सकारातमक सोच के साथ पलंग पर जाएं।

Share it
Share it
Share it
Top