उन्नाव गैंगरेप: विधायक कुलदीप सेंगर को एक और झटका, सरकार ने वाई श्रेणी सुरक्षा ली वापस

उन्नाव गैंगरेप: विधायक कुलदीप सेंगर को एक और झटका, सरकार ने वाई श्रेणी सुरक्षा ली वापससाभार: इंटरनेट।

गैंगरेप मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। सीबीआई द्वारा गिरफ्तार करने के बाद सेंगर से वाई श्रेणी वापस ले ली गई है। इस श्रेणी की सुरक्षा में एक एचसीपी व तीन सिपाही उनके आवास और तीन सिपाही अंगरक्षक के रूप में तैनात किए गए थे।

सपा से बीजेपी में शामिल होने के बाद उनकी सुरक्षा वापस लेने की अटकलें लगाई जा रही थी। लेकिन बीजेपी सरकार बनने से शासन ने सुरक्षा में कोई कटौती नहीं की। 8 अप्रैल को किशोरी द्वारा मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह की कोशिश की थी। जिसके बाद जेल में बंद पीड़िता की पिता के मौत के बाद मामला बढ़ गया। बाद में सरकार ने सीबीआई जांच के आदेश दिए।

विधायक पर पाक्सो एक्ट सहित कई गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। अब शासन ने विधायक से वाई सुरक्षा वापस ले ली है। फिलहाल विधायक सीबीआई की हिरासत में हैं। गुरुवार को सीबीआई ने पीड़िता और उसकी मां व चाचा से भी लंबी पूछताछ की। सीबीआई ने पीड़िता के पिता की मौत मामले में आरोपी विधायक के भाई अतुल और अन्य आरोपियों से भी पूछताछ की।

इस मामले में सीबीआई पीड़िता और आरोपी विधायक को भी आमने-सामने कर पूछताछ कर सकती है। इससे पहले बुधवार को सीबीआई पीड़िता को कुलदीप सेंगर के घर लेकर गई थी। वहां भी लंबी तफ्तीश की गई।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top