मई महीने में पशुपालकों को रखना चाहिए इन बातों का ध्यान 

मई महीने में पशुपालकों को रखना चाहिए इन बातों का ध्यान इस मौसम में पशुओं को धूप से बचाए।

लखनऊ। हर महीने अगर पशुपालक कुछ बातों को ध्यान को में रखें तो पशुपालक अच्छा उत्पादन कमा सकते है।

  • मई माह में अधिक तापक्रम होने की संभावना रहती है, साथ ही कुछ स्थानों पर आंधी- तूफान के साथ वर्षा भी होती है।
  • इस मौसम में ज्यादा गर्मी होने पर पशुओं में पानी व लवण की कमी, भूख कम होना, कम उत्पादन जैसे लक्षण देखने को मिलते है। ऐसे में पशुपालकों को ध्यान रखना चाहिए।
  • पशुओं को धूप और लू से बचाने का उपाय करें।
  • चारे का संग्रहण और उसकी समय पर खरीद कर सकें, ऐसे उपायों के बारे मे सोचें।
  • पशुओं में लवणों की कमी नहीं होनी पाएं इसके लिए लवण-मिश्रण निर्धारित मात्रा में दाने और बांटे में मिलाकर दें।
  • मौसम के अनुसार पशुओं के आहार में बदलाव करें। गेहूं का चोकर, जौ की मात्रा को बढ़ाए।
  • पशुओं को सतुंलित आहार दें, जिससे उनकी दुग्ध उत्पादन क्षमता बनी रहे।
  • चिचंड़ों और पेट के कीड़ों से पशुओं के बचाव का उचित प्रबंध करें।
  • चारे के लिए बोई गई चरी, मक्का चारा घासों की कटाई करें।
  • इस माह में भेड़ के ऊन कतरने का कार्य करें।

ये भी पढ़ें- नस्ल सुधारने के लिए ब्राजील से वापस लौटेंगी भारतीय देसी गाय

Share it
Top