2017-18 के दौरान 34 लाख से अधिक गो-पशुओं का हुआ वध: संजीव बालियान

2017-18 के दौरान 34 लाख से अधिक गो-पशुओं का हुआ वध: संजीव बालियान

लखनऊ। मत्स्य, पशुपालन एवं डेयरी राज्य मंत्री डॉ संजीव कुमार बालियान ने राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया, "2017-18 के दौरान 34 लाख से अधिक गो-पशुओं का वध किया गया।"

पशुपालन तथा मात्स्यिकी सांख्यिकीय 2018 के आंकड़ों के अनुसार, 2017-18 के दौरान 34.10 लाख गो-पशुओं का वध किया गया। संजीव ने बताया, " गोपशु परिरक्षण पर कानून बनाने का अधिकार राज्यों के पास है। कई राज्यों ने गोवध पर प्रतिबंध लगाने संबंधी कानून बनाए हैं।"

यह भी पढ़ें- हरियाणा: सरकार ने गोवध को लेकर सख्त किए कानून, पुलिस को मिली और शक्तियां

हाल ही में हरियाणा सरकार ने 2015 के गोवध अधिनियम के प्रावधानों को और सख्त करने को मंजूरी दे दी है जिसके तहत पुलिस को और शक्तियां प्रदान की गयी है। इसमें गोवंश को मारने के लिए ले जाये जा रहे वाहन को जब्त करने और ऐसे उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल किए गए परिसर की तलाशी लेना शामिल है।

डॉ बालियान ने यह भी बताया कि भारतीय खाद्य सुरक्षा तथा मानक प्राधिकरण से मिली सूचना के अनुसार, देश भर में 719 बूचड़खानों के पास राज्यों के लाइसेंस हैं और 155 बूचड़खानों के पास केंद्रीय लाइसेंस है।

यह भी पढ़ें- मध्यप्रदेश: गोवंश को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए बनेंगे नए नियम

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top