अपनी और अपने घर की सुरक्षा के लिए रहें सतर्क

अपनी और अपने घर की सुरक्षा के लिए रहें सतर्कसुरक्षा की टिप्स।

अपने घर की सुरक्षा के लिए आपको कुछ कार्य व्यक्तिगत और कुछ सामूहिक रूप से करने चाहिए। सामूिहक कार्यों में आप अपने ग्राम, मोहल्लों में सुरक्षा समिति अथवा किसी चौकीदार को रखे जाने की पहल करा सकते हैं या फिर ‘पहल’ में सहयोग दे सकते हैं। मोहल्ले वालों को इस संबंध में जागरूक रखने का प्रयास कर सकते हैं। और उन्हें संगठित कर सकते हैं। इलाकाई पुलिस से संपर्क, उनकी गश्त, कंट्रोल रूम की गाड़ियों का बराबर अपने इलाकों में भ्रमण इत्यादि आप सुनिश्चित करा सकते हैं।

इन बातों का रखें ध्यान

  • घर का मुख्य द्वार एवं दरवाजे हमेशा बंद रखें तथा बिना सत्यापन किए किसी अजनबी के लिए न खोलें। (पत्नी व बच्चों को सतर्क कर दें) मुख्य दरवाजे में मैजिक आंख तथा जंजीर की सिकड़ी अवश्य लगवायें ताकि आप आप आगंतुक को देख सकें और दरवाजा खोलना भी पड़े तो बस थोड़ा सा खोलें। मुख्य द्वार मजबूत बनाएं।
  • दरवाजे एवं खिड़कियों में मजबूत गि्रल अवश्य लगवाएं। बाथरूम के रोशनदान का जरूरी ध्यान दें।
  • अजनबियों से बात नहीं करनी चाहिए और न ही उन पर कभी विश्वास करना चाहिए।
  • संभव हो तो घर के दरवाजे पर पालतू कुत्ता रखें।
  • घर क कार्यों हेतु बढ़ई, राजमिस्त्री, प्लम्बर, धोबी, पुताई-पेंट कर्मी आादि को विश्वस्त ठेकेदार से सत्यापित करके ही कार्य में लगाएं।
  • नौकर तथा अपरिचित के सामने अलमारी, बक्सा आादि न खोलें तथा अपनी बहुमुल्य वस्तुएं इधर-उधर न डालें, उन्हें ताले में रखें।
  • महत्वपूर्ण टेलीफोन नंबर को घर के महत्वपूर्ण स्थानों पर चस्पा करें।
  • प्राइवेट कॉलोनी गार्ड एवं अपने व्यक्तिगत नौकरों को स्थानीय पुलिस एवं बीट कांस्टेबल से संपर्क बनाएं रखने हेतु बताएं।
  • घर के आस-पास की झाड़ियों को काट कर रखें।
  • घर के मुख्य दरवाजें पर बत्ती जलाकर रखें।
  • लटकने वाले तालों के बजाय दरवाजे के अंदर फिट होने वाले तालों का प्रयोग करें।
  • अपने घर को अपने पड़ोसी के घर के आलर्म बेल से जोड़ें।

Share it
Top