गाँव में खुला 100 बेड का अस्पताल, जांच होगी मुफ़्त

गाँव में खुला 100 बेड का अस्पताल, जांच होगी मुफ़्त

बीकेटी के साढ़ामऊ के अस्पताल से रोजाना 400 मरीजों को इलाज

लखनऊ। बक्शी का तालाब के गाँव अर्जुनपुर से आए पप्पू (35) के लिए यह अस्पताल किसी सौगात से कम नहीं था। मजदूरी करने वाल पप्पू की अंगुली गिट्टी तोड़ते समय हथौड़े से चोटिल हो गई थी जो बाद में पकने लगी। इसके अपरेशन के लिए वैसे तो पप्पू को 30 किमी दूर लखनऊ स्थित मेडिकल विश्वविद्यालय या बलरामपुर आना पड़ता, लेकिन अस्पताल खुलने से उसे यह इलाज मात्र एक किलोमीटर की दूरी पर ही मिल गया।

शहर से 20 किमी उत्तर दिशा में बसे बक्शी का तालाब के लोगों को अब छोटे-बड़े उपचार के लिए शहर भागने की जरूरत नही है। अब बीकेटी के साढ़ामऊ में ही 100 बेड की क्षमता वाले राम सागर मिश्र अस्पताल खुल गया है।

अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ एके अग्रवाल ने बताते हैं, ''इस अस्पताल में कई जनरल आपरेशन, डिलीवरी, हड्डिïयों से सम्बंधित रोगों के इलाज समेेत कई अन्य सुविधाएं इस अस्पताल से मिल जाएगी। इसके अलावा अस्पताल में सारी जांच मुफ्त हैं।''

अस्पताल में ओपीडी सुबह आठ से दो बजे तक चलेगी, जिसमें रोजाना करीब 400 मरीजों के आने की उम्मीद है। ऐसे मेें अस्पताल में अभी दस डॉक्टरों की ही नियुक्त है जबकि अभी अस्पताल में कई डॉक्टरों के पद रिक्त है, जिसमें कान नाक गला विशेषज्ञ, हृदय रोग विशेषज्ञ समेत 10 डाक्टरों के पद रिक्त पड़े हैं। अस्पताल को फिलहाल 25 डॉक्टर, 25 पैरामेडिकल और 45 कर्मियों की जरूरत है।

उत्तर प्रदेश में प्रति 45,000 लोगों पर एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र है और सरकारी डॉक्टरों की भी 30 प्रतिशत कमी है। ऐसे में नए अस्पताल खुलने से लोगों के लिए तो सुविधा होगी पर उसे बिना डॉक्टरों के इलाज कैसे संभव होगा।

अस्पताल के उद्घघाटन में स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन समेत कई नेता मौजूद थे। इस मौके पर रामसागर के घरवालों ने मंत्री का आभार व्यक्त किया। मंत्री ने वादा किया अस्पताल को जल्द ट्रामा सेंटर और फुल एसी कर देंगे, जिससे ग्रामीणों का उच्च गुणवत्ता वाली सुविधाएं मिल सकेंगी।

Tags:    India 
Share it
Top