जानिए कैसे मिलेगा पं. दीन दयाल मुफ़्त आवास योजना का लाभ

Mohit AsthanaMohit Asthana   15 Sep 2017 6:10 PM GMT

जानिए कैसे मिलेगा पं. दीन दयाल मुफ़्त आवास योजना का लाभयह योजना ग़रीबी रेखा से नीचे के लोगों के लिए जारी की है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक के बाद एक नये फ़ैसले और नयी योजनाएँ शुरू कर रहे हैं। हाल ही में मुख्यमंत्री योगी नें उत्तर प्रदेश के ग़रीब लोगों के हित के लिए एक नयी योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना का नाम है पंडित दीन दयाल मुफ़्त आवास योजना। मुख्यमंत्री योगी यह योजना ग़रीबी रेखा से नीचे के लोगों के लिए जारी की है।

मुख्यमंत्री योगी जो कि आवास मंत्री भी हैं उन्होनें ग़रीबों के लिए मुफ़्त आवास के लिए प्रस्ताव तैयार करने के लिए विभाग के अधिकारियों के साथ काम करना शुरू कर दिया है।

ये भी पढ़े- किसानों की आय बढ़ाने में मददगार बन रहा ‘फार्मर फर्स्ट’

UP सरकार मुफ़्त घर योजना

आवास और शहरी नियोजन विभाग के अनुसार राज्य सरकार जल्द ही मध्यप्रदेश , गुजरात और महाराष्ट्र में आवास योजनाओं के समान ग़रीबों के लिए एक नई आवास योजना शुरू करेगी। सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक 25 अप्रैल को हुई थी ,जहाँ योजना शुरू करने का निर्णय लिया गया। योगी सरकार ने कहा कि वह यह नहीं चाहते कि मलिन बस्तियों में रहने वाले कोई भी व्यक्ति घर से खाने वंचित रहे। इस योजना के तहत ग़रीबों के लिए नि:शुल्क आवास के अलावा एलआईजी (लोवर इन्कम ग्रुप) श्रेणी के लोगों को सस्ती कीमत पर घर उपलब्ध करवाया जाएगा। जो परिवार कम आय वाले समूह से संबंधित होंगें, वे पंडित दीन दयाल योजना के तहत मुफ़्त में उत्तर प्रदेश सरकार से घर ले पाएँगे।

ये भी पढ़े- शरदकालीन गन्ने की बुवाई कर सकते हैं शुरु

पंडित दीनदयाल योजना 2017

इस योजना के तहत ग़रीबी रेखा से नीचे रहने वाले कम आय वाले लोगों को मकान आवंटित किये जाएंगे। इससे पहले यह योजना समाजवादी पार्टी द्वारा शुरू की गयी थी। इस योजना को शुरू करने के बाद और इस योजना के अंतर्गत आने वाले लोगों की आवेदन की संख्या तेज़ी से बढ़ रही है। इस योजना के तहत ग़रीब कल्याण कार्ड के ज़रिए मुफ़्त घर उपलब्ध करवाए जाएँगे। उसके बाद मुफ़्त घर प्रदान करने के लिए ग़रीब कल्याण कार्ड के माध्यम से चयन किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री मुफ़्त आवास योजना 2017 की कुछ अहम जानकारियाँ

उत्तर प्रदेश पूरे भारत में भारी आबादी वाला राज्य है और यहां एक बड़े तबके के पास अपने घर नहीं है। 2014 के सर्वक्षण के अनुसार उत्तरप्रदेश में 21 लाख घरों की कमी है | इसलिए घरों की कमी को देखते हुए योगी आदित्यनाथ नें प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत यह नयी योजना शुरू की है।

आवेदन करने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना ज़रूरी है...

आपको अपने राशन कार्ड की कॉपी जमा करवानी होगी।

आपके पास वैध आवासीय पत्र होना चाहिए।

मुखिया की पासपोर्ट साइज़ फोटो होना चाहिए।

पारिवारिक आय प्रमाणपत्र होना चाहिए।

इस योजना के तहत लोगों को जो घर दिए जाएँगे उन घरों की चार श्रेणियाँ हैं जो की इस प्रकार हैं- एलआईजी, ईडब्ल्यूएस, एमआईजी ,एचआईजी। सबसे सस्ती कीमत वाला घर एलआईजी श्रेणी का है, इन घरों के क़ीमतें 6 लाख से 11 लाख तक की हैं।

ये भी पढ़े- गाय का दूध एक साल से कम उम्र के बच्चे के लिए हानिकारक

बाकी घरों की तुलना में इस योजना के तहत आने वाले घरों की क़ीमतों में 40% तक का अंतर है। आपको बता दें की लकी ड्रॉ के तहत परिवारों को घर दिए जाएँगे। परियोजना के पूरा होने के बाद लखनऊ औद्योगिक विकास प्राधिकरण भाग्यशाली ड्रा आयोजित करेगा और तारीख उसी साइट पर घोषित की जाएगी। इसलिए इस योजना के तहत घर लेने लिए बिना देरी करते हुए पंजीकरण शुरू कर दें।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top