आज के दिन ब्रिटेन में पहली बार पी गई थी भारत की चाय,  एक राजा ने गलती से की थी ईजाद

आज के दिन ब्रिटेन में पहली बार पी गई थी भारत की चाय,  एक राजा ने गलती से की थी ईजादब्रिटेन की महारानी कैथरीन ने बनाया था चाय को लोकप्रिय

लखनऊ। आज ही के दिन यानी 10 जनवरी 1839 को पहली बार असम चाय की नीलामी ब्रिटेन में हुई थी। हालांकि ब्रिटेन में चाय उससे भी 200 साल पहले शुरू हो चुकी थी। तब वहां चाय चीन से मंगाई जाती थी। ब्रिटिश अखबार में पहली बार चाय का विज्ञापन 1658 में आया था लेकिन ब्रिटेन में इसे लोकप्रिय पेय पदार्थ के रूप में महारानी कैथरीन को जाता है। वह ब्रेगैंज़ा से थीं और चाय बहुत पसंद करती थी।

भारत में चाय के शौकीनों की कमी नहीं है। यहां हर घर से लेकर गली-नुक्कड़ में भी चाय पसंद की जाती है। दोस्तों की बातों में, ऑफिस के साथियों के साथ किसी चर्चा में, सुबह की अच्छी शुरुआत में चाय जरूर शामिल होती है लेकिन क्या आपको पता है भारत में सबसे ज्यादा चाय भारत नहीं कहीं और पी जाती है।

चाय पीने के मामलेे में तुर्की हैं नंबर बन

आपको ये जानकर आश्चर्य होगा लेकिन विश्व में सबसे ज्यादा चाय तुर्की में पी जाती है। तुर्की की चाय आस-पास के देशों में पसंद की जाती है। टी एंड इंफ्यूजंस ऑर्गनाइजेशन के आंकड़ों के अनुसार, यहां एक साल में प्रति व्यक्ति 6.87 किग्रा चाय पी जाती है। यद्यपि तुर्की में चाय बीसवीं शताब्दी में ही लोकप्रिय हुई है। इसे कॉफी की जगह ऑप्शन के तौर पर इस्तेमाल में लाया गया था।

2- मोरक्को

यहां हर साल प्रति व्यक्ति 4.34 किलो चाय पी जाती है। उत्तरी अफ्रीका देशों में मिंट चाय काफी लोकप्रिय होती है। इस चाय को ताजी पुदीने की पत्तियों और तंबाकू के साथ गर्म करके सर्व किया जाता है। ग्रीन टी यहां दूसरी सर्वाधिक लोकप्रिय चाय है।

3- आयरलैंड

यहां प्रति व्यक्ति 3.22 किग्रा चाय सालाना पी जाती है। यहां चाय के शौकीनों को ब्लैक टी सबसे ज्यादा पसंद है। लियोन्स और बैरीस चाय कंपनियां यहां के बाजार में दो सबसे बड़े प्रतिद्वंदी हैं।

4- मॉरिटानिया

यहां 3.22 किग्रा चाय का सेवन प्रति व्यक्ति होता है। चाय यहां लोगों की दैनिक दिनचर्या में शामिल है। यहां खाने के बाद चाय सर्व करना परंपरा की तरह है। इसके अलावा मेहमानों के स्वागत के लिए भी चाय परोसी जाती है।

5-यूनाइटेड किंगडम

एक आंकड़े के मुताबिक, ब्रिटेन में 60 बिलियन कप चाय हर साल पी जाती है। यानी प्रति व्यक्ति 900 कप से भी अधिक चाय पीता है।

एक राजा ने गलती से बनाई थी चाय

चीन के लोगों ने सबसे पहले चाय पीने की शुरूआत की थी। कहा जाता है कि 4700 साल पहले चीन के एक राजा ‘शैन नुंग’ के सामने रखे गर्म पानी के प्याले में, चाय की कुछ सूखी पत्तियां आकर गिरी जिससे पानी में रंग आ गया। जब राजा ने उसको जरा सा पीया तो उन्हें स्वाद बहुत पसंद आया ओर तभी से चाय का सफर शुरू हुआ।

भारत में चाय की खेती 1835 में शुरू हुई

भारत में चाय की खेती की शुरुआत 1835 में हई थी। हुआ यूं कि 1815 में कुछ ब्रिटिश यात्रियों का ध्यान असम में उगने वाली चाय की झाड़ियों पर गया जिसे स्थानीय कबाइली लोग एक पेय बनाकर पीते थे।

First Published: 2017-01-10 17:41:44.0

Share it
Share it
Share it
Top