दुष्कर्म पीड़िता की आंख फोड़ने वाला दबोचा

दुष्कर्म पीड़िता की आंख फोड़ने वाला दबोचासाभार फोटो: गूगल इमेज

उन्नाव। मुकदमे में सुलह न करने पर आरोपी की भाई की हैवानियत का शिकार होने वाली दुष्कर्म पीड़िता को बुधवार देर रात लखनऊ के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। यहां पीड़िता की दूसरी आंख की सर्जरी की जाएगी। जांच के दौरान चिकित्सकों ने पीड़िता के सिर में गंभीर चोट का भी हवाला दिया। उधर दुष्कर्म पीड़िता की आंख फोड़ने वाले आरोपी पुत्तन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उससे घटना के संबध में पूछताछ कर रही है।

माखी थाना क्षेत्र के एक गाँव निवासी मंदबुद्धि युवती पिछले साल 15 मई को मवेशी चराने गई थी। परिजनों का आरोप है कि जोधाखेड़ा गाँव में रहने वाले दो युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया था। इस घटना में पिता ने छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। हालांकि तीन माह बाद बेटी के गर्भवती होने का पता चलने पर पुलिस ने गैंगरेप का मुकदमा दर्ज कर लिया था। साथ ही आरोपी मुन्ना सिंह व मतई लोध को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। आरोपियों की गिरफ्तारी होने के बाद पीड़िता ने जिला अस्पताल में एक बच्ची को जन्म दिया। लेकिन जन्म के 35 दिन बाद बच्ची की मौत हो गई थी।

इधर इस घटना में सुलह समझौता कराने के लिए आरोपी युवकों का भाई पुत्तन पीड़ित परिवार पर कई दिनों से दबाव बना रहा था। न मानने पर उसने बुधवार को दुष्कर्म पीड़िता को उस वक्त खेत में पकड़ लिया, जब वह शौच के लिए गई थी। इस बीच पुत्तन ने लड़की दोनों आंखें नुकीले डंडे से वार कर फोड़ दी और मौके से भाग निकला था। छोटी बहन गंभीर हालत में बहन को घर लेकर पहुंची थी, जहां उसने पिता को पूरी घटना बताई। जिसके बाद लड़की को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। लड़की की हालत गंभीर देखते हुए उसे जिला अस्पताल भेज दिया गया था। उधर मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी नेहा पांडेय ने खुद पीड़िता से बात की और बेहतर इलाज के लिए उसे कानपुर के रिजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां देर रात उसे जवाहर लाल रोहतगी नेत्र चिकित्सालय ले जाया गया था। यहां चिकित्सकों ने पीड़िता के सिर में गंभीर चोट की पुष्टि की। जिस पर देर रात ही लडक़ी को लखनऊ मेडिकल कालेज शिफ्ट कर दिया गया। एसपी नेहा पांडेय ने बताया कि वह पूरे मामले में नजर बनाए हुए हैं। पीड़िता का बेहतर इलाज हो सके इसकी हर संभव कोशिश की जा रही है।

आरोपी पर हो सकती है एनएसए की कार्रवाई

दुष्कर्म पीड़िता द्वारा सुलह न करने पर उसकी आंख निकालने वाले युवक पर एसपी नेहा पांडेय ने एनएसए की कार्रवाई करने के संकेत दिए हैं। एसपी नेहा पांडेय ने बताया कि घटना दिल दहला देने वाली है। उन्होंने खुद पीड़ित से मुलाकात की है। आरोपी के इस कृत्य के बाद उसे बचने का कोई मौका नहीं दिया जाएगा।

पीड़िता को मिलेगी आर्थिक मदद

दुष्कर्म पीड़िता के साथ हुई हैवानियत के बाद प्रशासन ने बेहतर इलाज उपलब्ध कराने के साथ ही आर्थिक मदद का मरहम लगाने के प्रयास तेज कर दिए हैं। प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही पीड़ित लड़की को एक लाख रुपये की आर्थिक मदद दिलाई जाएगी। इसके साथ ही मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से पांच लाख रुपये की मदद दिलाने के भी प्रयास तेज कर दिए गए हैं।

Share it
Share it
Share it
Top