बिहार के मंदिरों से 10 दिनों में 20 प्राचीन मूर्तियां चोरी

बिहार के मंदिरों से 10 दिनों में 20 प्राचीन मूर्तियां चोरीबिहार के समस्तीपुर जिले में वारिसनगर थाने के डरसुर गाँव की ठाकुरबाड़ी से शनिवार रात चोरों ने पांच शताब्दी पुरानी आठ मूर्तियों की चोरी कर ली।

पटना (आईएएनएस)। बिहार में विभिन्न जिलों के अलग-अलग मंदिरों से 10 दिनों के अंदर चोरों ने 20 प्रचीन और कीमती मूर्तियां चुरा ली हैं। इन मूर्तियों की कीमत करोड़ों रुपये में आंकी जा रही है। पुलिस के अनुसार, पिछले 10 दिनों के अंदर समस्तीपुर जिले के एक मंदिर से जहां चोरों ने आठ मूर्तियों की चोरी की, वहीं वैशाली जिले के एक मंदिर से एक और गया जिले के मंदिर से 11 मूर्तियों पर चोरों ने हाथ साफ किए।

ये भी पढ़ेंः भारत से अब तक चोरी हो चुकी हैं अरबों रुपये की 50 हजार मूर्ति, इस्लामिक स्टेट जैसे आतंकी संगठन करवाते हैं चोरी

बिहार के समस्तीपुर जिले में वारिसनगर थाने के डरसुर गाँव की ठाकुरबाड़ी से शनिवार रात चोरों ने पांच शताब्दी पुरानी आठ मूर्तियों की चोरी कर ली। पुलिस के अनुसार, मंदिर के महंत (पुजारी) मंगल दास सहित सभी लोग शनिवार की रात मंदिर के मुख्य द्वार में ताला लगाकर सो गए। इसी क्रम में चोर मंदिर में स्थापित सभी आठ पौराणिक मूर्तियों को चुराकर फरार हो गए। वारिसनगर के थाना प्रभारी विश्वनाथ प्रसाद रवि ने सोमवार को बताया कि सुल्तानपुर गांव निवासी महंत मंगल दास के लिखित बयान पर रविवार को वारिसनगर थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।

प्राथमिकी में बताया गया है कि शनिवार को भगवान का भोग लगा कर मुख्य द्वार पर ताला लगाया गया था, इसके बाद सभी चले गए। महंत भी ताले की चाबी को अन्य दिनों की भांति दीवार पर टांगकर पास के ही एक कमरे में जाकर सो गए।

रविवार की सुबह पूजा-अर्चना के लिए जब उन्होंने ताला खोला, तो सुनहरे रंग की सभी आठ पौराणकि मूर्तियां गायब थीं। इनमें राम, सीता, लक्ष्मण, भरत, शत्रुध्न, राधा, कृष्ण व हनुमान की मूर्तियां शामिल हैं। थाना प्रभारी ने कहा कि पूरे मामले की जांच की जा रही है। इसके पूर्व बिहार के वैशाली जिले के सराय थाना क्षेत्र में अज्ञात चोर 29 जनवरी की रात एक प्राचीन मंदिर से अष्टधातु की एक कीमती मूर्ति की चोरी कर फरार हो गए थे।

पुलिस के अनुसार, सराय स्थित प्राचीन ठाकुरबाड़ी से चोरों ने दरवाजे का ताला तोड़कर अष्टधातु की बनी भगवान श्रीराम की बेशकीमती मूर्ति चुरा ली अैर फरार हो गए। चुराई गई मूर्ति का वजन आठ किलोग्राम से ज्यादा बताया गया है। ठाकुरबाड़ी में सीता और लक्षमण की मूर्तियां भी हैं, लेकिन पीतल की होने के कारण उसे चोरों ने छोड़ दिया। इसके पूर्व 24 जनवरी को गया जिले के वजीरगंज थाना क्षेत्र के एक प्राचीन मंदिर से अज्ञात चोरों ने अष्टधातु की निर्मित कुछ मूर्तियों सहित कुल 11 मूर्तियों की चोरी कर ली थीं।

First Published: 2017-02-06 13:48:09.0

Share it
Share it
Share it
Top