भारत-नेपाल बार्डर पर तनाव- छोटा सा पुल बढ़ा रहा दोनों देशों के बीच दूरियां

Arvind ShukklaArvind Shukkla   11 March 2017 6:32 AM GMT

भारत-नेपाल बार्डर पर तनाव- छोटा सा पुल बढ़ा रहा दोनों देशों के बीच दूरियांतनाव के बाद नेपाल बार्डर पर तैनात एसएसबी के जवान। फोटो- प्रतीक

प्रतीक श्रीवास्तव

लखीमपुर खीरी (यूपी)। पुल दो शहरों, जिलों और देशों यहां तक की रिश्तों को भी जोड़ने का काम करते हैं लेकिन सदियों से मित्र रहे भारत-नेपाल के लोगों के बीच एक छोटा सा पुल रिश्तों में खटास ला रहा है। कहासुनी से मामला खूनखराबे तक पहुंच गया है। नो मेंस लैंड दोनों देशों के लोग आमने-सामने हैं। पत्थरबाजी में एक तहसीलदार, दरोगा और एसएसपी के दर्जनों जवान नेपाली पत्थरबाजी में घायल हो चुके हैं।

बॉर्डर

रोटी-बेटी के रिश्ते वाले भारत-नेपाल के बीच अब नेपाल की तरफ से भी पत्थरबाज हालात बिगाड़ रहे। नेपाल की तरफ से रह रह कर पत्थर बरस रहे हैं। एसएसबी,पुलिस मित्र राष्ट्र के लोगों को समझाने में लगी है,पर नेपाली भीड़ मानने को तैयार नहीं। नो मेंस लैंड पर रुक रुक कर पत्थरबाजी हो रही। दोनों तरफ से लोग एक दूसरे को ललकार रहे। पता नहीं रोटी बेटी के रिश्ते को किसकी नजर लग गई। एक छोटे से पुल की जमीन को लेकर नो मेंस लैंड पर बवाल दो दिनों से चल रहा।

य़े भी पढ़ें- नेपाल ने भारत से अपने नागरिक की हत्या की जांच करने को कहा

भारत-नेपाल बॉर्डर पर नोमेन्स लैंड के बसही गाँव के पास एक जमीन पर नेपाल प्रशासन एक पुलिया बना रहा था। 10 दिन पहले इसे ये कहते हुए एसएसबी और पलिया एसडीएम ने रुकवा दिया था कि जमीन विवादित है। बॉर्डर पिलर डिस्टर्ब है। दोनों देशों के संयुक्त सर्वे की बात हुई। मामला इंटरनेशनल था सो सरकारों को लिखा पढ़ी कर आगे बढ़ने पर रजामंदी हुई थी। पर मामला गुरूवार को बिगड़ गया। जब नेपाली लोग फिर पुलिया बनाने आ गए।

लखीमपुर में नेपाल की तरफ से पत्थरबाजी के बाद बार्डर पर स्थानीय लोग और एसएसबी के जवान।

भारतीय एसएसबी के जवानों ने रोकना चाहा भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया। खबर फ़ोर्स को मिली तो और जवान और भारतीय लोग बॉर्डर पर पहुंचे पर भीड़ नेपाली मानने को तैयार नही थी। पथराव तेज हो गया। तहसीलदार का हाथ टूट गया। नौ जवान एसएसबी के घायल हो गए। अब भी हजारों की भीड़ नेपाल की तरफ जमा है। हालात बेकाबू होते जा रहे। लखीमपुर खीरी के जिलाधिकारी और एसपी भी पहुंचे हैं।

शुक्रवार को पांच हजार से ज्यादा नेपाली लोगों ने फिर धावा बोल दिया। नेपाली नागरिक एक नेपाली युवक की गोलीबारी में मौत का आरोप लगा रहे थे। पर डीएम का कहना है कोई गोलीबारी नहीं हुई। नेपाली भीड़ बार बार भारतीय सीमा में घुस पथराव कर रही। नेपालियों का आरोप है कि एसएसबी की गोली से गोबिंद गौतम नाम के युवक की मौत हुई। पर भारतीय प्रशाशन इसे खारिज कर रहा। भीड़ नियंन्त्रित करने को आंसू गैस भी छोड़ी गई। रबर की गोलियां चलाई गेन। नेपालियों ने नो मेंस लैंड पर झंडा भी लगाया। जो भारतीय फ़ोर्स ने कब्जे में ले लिया।

जिलाधिकारी आकाशदीप का कहना है कि हालात काबू में हैं,हम नेपाल के अफसरों से सम्पर्क में हैं। । डीएम ने ये भी कहा कि भारतीय सुरक्षा एजेंसियों की तरफ से कोई सीधी फायरिंग नहीं की गई। एसपी मनोज कुमार झा ने कहा हम लोग स्थिति पर नियंत्रण करने में लगे है। नेपाल की तरफ से भीड़ ज्यादा उंन्माद कर रही। हालात सामान्य करने में लगे हुए हैं।

इधर नेपाल में जगह जगह प्रदर्शन हो रहे। उत्तराखण्ड से लेकर बिहार तक नेपाल में तनाव का माहौल है। गौरीफंटा इंटरनेशनल बॉर्डर पर माल और लोगों की आवाजाही पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। एसएसबी ने नेपाल से सटी यूपी बॉर्डर पर अलर्ट जारी किया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top