सपाई किले में सेंध, कन्नौज लोकसभा क्षेत्र की चार विस सीटें फिसलीं

सपाई किले में सेंध, कन्नौज लोकसभा क्षेत्र की चार विस सीटें फिसलींजीत का जश्न मनाते भाजपा के समर्थक।

कन्नौज। इस बार सपाई किला ढह गया। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी सांसद डिम्पल यादव के संसदीय क्षेत्र की चार विधानसभा सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की। सिर्फ कन्नौज सदर सुरक्षित सीट पर ही सपा ने लाज बचाई।

कन्नौज जिले में तीन विधानसभा सीटे हैं। कन्नौज सदर सुरक्षित सीट से सपा विधायक अनिल दोहरे ने तीसरी बार जीत दर्ज की। उन्होंने भाजपा प्रत्याषी बनवारी लाल दोहरे को 2,454 मतों से परास्त किया। बसपा प्रत्याषी अनुराग जाटव तीसरे स्थान पर आए।

छिबरामऊ विधानसभा सीट से पूर्व सहकारिता मंत्री रामप्रकाश त्रिपाठी की पुत्री अर्चना पांडेय ने बसपा प्रत्याशी ताहिर हुसैन सिद्दीकी को 37,224 मतों से शिकस्त दी। निवर्तमान सपा विधायक/प्रत्याशी अरविंद यादव तीसरे स्थान पर पहुंच गए।

चाक-चाैबंद रही सुरक्षा व्यवस्था।

तिर्वा विधानसभा क्षेत्र से माध्यमिक शिक्षा राज्यमंत्री विजय बहादुर पाल चुनाव हार गए। उन्हें भाजपा प्रत्याशी कैलाश राजपूत ने 24,209 मतों से हराया। यहां बसपा प्रत्याशी विजय सिंह विद्रोही तीसरे स्थान पर रहे।

कन्नौज लोकसभा क्षेत्र के तहत आने वाली कानपुर देहात जिले की रसूलाबाद सुरक्षित विधानसभा सीट से भाजपा की निर्मला शंखवार ने सपा की अरूणा कोरी को 33,394 मतों से हराया। इसी लोकसभा क्षेत्र के तहत आने वाली औरैया जिले की बिधूना सीट से भाजपा के विनय षाक्य ने 2904 मतों से जीत दर्ज की। उन्होंने सपा प्रत्याषी दिनेष वर्मा उर्फ गुड्डू को हराया।

Share it
Top