इस्राइल और फलस्तीन के बीच शांति स्थापित करना है लक्ष्य: व्हाइट हाउस 

इस्राइल और फलस्तीन के बीच शांति स्थापित करना है लक्ष्य: व्हाइट हाउस व्हाइट हाउस

वाशिंगटन (भाषा)। अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास व्हाइट हाउस ने कहा कि ट्रंप प्रशासन का लक्ष्य इस्राइल और फलस्तीन के बीच शांति स्थापित करना है चाहे यह दोनों राष्ट्रों के बीच समाधान से हो या किसी अन्य तरीके से।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के बीच अहम मुलाकात की पूर्व संध्या पर व्हाइट हाउस ने कहा कि अमेरिका दोनों देशों के बीच दशकों से चल रहे संघर्ष को समाप्त करने के लिए केवल मदद का हाथ बढ़ा सकता है, लेकिन वह शांति स्थापित करने के लिए आदेश नहीं दे सकता।

व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘शांति स्थापित करना लक्ष्य है चाहे वह दो राष्ट्रों के समाधान से हों, अगर दोनों पक्ष यह चाहते हैं तो या किसी और तरीके से। हम उनकी मदद करने के लिए तैयार हैं।'' यह पूछने पर कि क्या दो देशों के बीच समाधान का मतलब शांति है, अधिकारी ने नाम ना बताने की शर्त पर कहा, ‘‘शायद, शायद नहीं।''

उन्होंने कल कहा, ‘‘दोनों पक्षों को इस पर सहमत होना चाहिये। हम इसे उन पर थोप नहीं सकते लेकिन मुझे लगता है कि कल इस बारे में हमें और पता चलेगा।'' नेतन्याहू कल अमेरिका पहुंचे थे। उन्होंने अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन से मुलाकात की।

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने कहा कि नेतन्याहू का आज ओवल ऑफिस में ट्रंप से मुलाकात करने का कार्यक्रम है जिसके बाद दोनों नेताओं के एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करने की संभावना है। व्हाइट हाउस के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘हम यह आदेश देने नहीं जा रहे कि शांति की क्या शर्तें होगी। राष्ट्रपति ट्रंप ने इस बात के काफी संकेत दिये है कि वह शांति स्थापित करना चाहते हैं।''

Share it
Top