गुड न्यूज: मार्च से डाकघरों में भी बनेंगे पासपोर्ट

गुड न्यूज: मार्च से डाकघरों में भी बनेंगे पासपोर्टडाकघर।

नई दिल्ली। मार्च से कुछ चुनिंदा शहरों के लोग पासपोर्ट बनवाने के लिए डाकघरों में आवेदन कर सकेंगे। यह विदेश मंत्रालय की महत्वाकांक्षी योजना के तहत किया जा रहा है। इसका मकसद पासपोर्ट जारी करने की प्रक्रिया को आसान बनाना और समूचे देश में पासपोर्ट दफ्तरों से बोझ को कम करना है जिनके पास बड़ी संख्या में आवेदन आते हैं।

पहले चरण में राजस्थान, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, कर्नाटक और झारखंड सहित कुछ अन्य राज्यों के चुनिंदा डाकघरों में पासपोर्ट सेवा उपलब्ध होगी। पासपोर्ट जारी करने वाला विदेश मंत्रालय मार्च के पहले पखवाड़े तक कुछ चुनिंदा शहरों में योजना शुरू करने के लिए सभी इंतजाम कर रहा है. फिलहाल समूचे देश में 38 पासपोर्ट दफ्तरों की विस्तारित इकाइयों के रूप में 89 पासपोर्ट सेवा केंद्र काम कर रहे हैं। विदेश मंत्रालय के मुताबिक, सरकार ने 2016 में 1.15 करोड़ पासपोर्ट और अन्य संबंधित सेवाएं दी थीं।

राजस्थान में पासपोर्ट सेवा कोटा, जैसलमेर, बीकानेर, झुंझुनू और झालावाड़ में, जबकि पश्चिम बंगाल में यह आसनसोल, नादिया, उत्तरी दिनाजपुर और उत्तरी कोलकाता में उपलब्ध होगी।झारखंड में यह सेवा देवघर जमशेदपुर और धनबाद में उपलब्ध होगी। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया कि हमारा प्रयास है कि पहले चरण में घोषित डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र 31 मार्च 2017 से पहले काम करना शुरू कर दें।

Share it
Top