लखनऊ में पांच घंटे से एटीएस की आतंकियों से चल रही मुठभेड़, काटी गई इलाके की बिजली

लखनऊ में पांच घंटे से एटीएस की आतंकियों से चल रही मुठभेड़, काटी गई इलाके की बिजलीलखनऊ के ठाकुरगंज में संदिग्ध आतंकी के साथ मुठभेड़ के दौरान यूपी पुलिस और एटीएस।

लखनऊ। अभी चौक में सरेशाम हुई करोड़ों की डकैती को 48 घण्टे भी नही बीते थे कि मंगलवार को राजधानी फिर एक बार सिहर गयी। इस बार दहशतगर्दो ने यहां पर पहुंच कर पुलिस को चुनौती दे डाली। मौके पर एटीएस व कमाण्डों के साथ यूपी पुलिस ने थाना काकोरी के क्षेत्र में बनी हाजी कालोनी में एक मकान को चारो ओर से घेरा तो अन्दर छिपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की जिसमें एक आतंकी के मारे जाने की संभावना आईजी एटीएस ने जतायी है। अन्दर तीन आतंकियों के होने की भी उम्मीद जतायी ज रही है। मुठभेड़ देर रात तक जारी थी। इलाके कर बिजलर काट दी गई है।

मंगलवार दोपहर एटीएस को सूचना मिली कि काकोरी की हाजी कालोनी में तीन आतंकी छिपे हैं इस पर एटीएस ने पुलिस के साथ उक्त मकान को घेर लिया तो करीब 3:45 बजे अन्दर से फायरिंग होने लगी। तभी पुलिस को पता चला कि जिस मकान में आतंकी छिपे हैं उसके ठीक बगल में बने मकान में भी एक परिवार के होने की सूचना पर पुलिस ने पहले उक्त मकान में फंसे परिवार जिसमें तीन बच्चे,एक महिला व एक पुरूष था उन्हे निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पंहुचा दिया उसके बाद आतंकियों से समर्पण करने को बाहर सं कहा पर अन्दर से फिर फायरिंग होने लगी इस पर पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग शुरू की।

आतंकियों ने अन्दर से करीब 20 राउण्ड फायरिंग की। शाम तकरीबन सवा छ: बजे सूचना आयी की पुलिस की जवाबी कार्यवाई में एक आतंकी को गोली लगी है और उसकी मौत हो गयी है। हालाकि मकान के अंदर और आतंकियों के होने की सम्भावना के चलते पुलिस मकान को घेरे हुए थी और उसका आपरेशन जारी था। आतंकियों से मुठभेड़ शुरू होने करीब तीन घण्टे बाद एसएसपी मौके पर पंहुचीं। मौके पर मौजूद आईजी एटीएस ने मीडिया को बताया कि यह मकान मलिहाबाद में रहने वाले बदशाह नाम के व्यक्ति का है जो इस समय सउदी अरब में है और उसके परिवार से पूछताछ की जा रही है जानकारी यह मिली है कि यह आतंकी यहां पर पिछले कई दिनों से छिप कर रह रहे थे। आईजी ने कहा कि मुठभेड़ समाप्त हो तो ही पूरी विस्तार से जानकारी मिल पायेगी।

कटर से काटी जा रही छत


घर का दरवाजा और छत काटने के लिए ड्रिल मशीन और कटर का उपयोग किया जा रहा है। डीएम लखनऊ मौके पर पहुंच गए हैं। घर के बाहर जनरेटर चलाया जा रहा है.। एसएसपी लखनऊ के मुताबिक कटर से छत काटी जा रही है और आतंकी अभी भी कमरे में मौजूद है।

इसी सफेद वाले घर में छिपा है संदिग्ध आतंकी।

किसी को नुकसान न हो इसका भी पुलिस ख्याल रख रही है। इस बीच खबर आ रही है कि आतंकी ने खुद को एक कमरे में बंद कर रखा है जहां से वह लगातारा फायरिंग कर रहा है। बताया जा रहा है कि मंगलवार शाम 4 बजे से फायरिंग हो रही है। खबर है कि संदिग्ध के पास लोडेड पिस्टल है। कहा जा रहा है कि आंसू गैस का उपयोग किया जा रहा है। आतंकी का नाम सैफुल्लाह बताया जा रहा है। उसके पास एक बैग भी है। आतंकी के आईएसआई के एजेंट होने के भी खबर है।

2 दिन पहले ठाकुरगंज की हाजी कॉलोनी में लिया था किराए पर कमरा

पुलिस और स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक संदिग्ध आतंकी ने दो दिन पहले ही ठाकुरगंज के इस मोहल्ले में किराए पर कमरा लिया था। काकोरी थाना क्षेत्र की इस कॉलोनी के मोहम्मद हाजी नाम के शख्स ने बसाया था, जिसकी 2012 में जमीन विवाद में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

डीजीपी जावीद अहमद ने संभाल रखा है मोर्चा

ठाकुरगंज में मौके पर मोर्चा संभाले पुलिसकर्मी

लखनऊ के ठाकुरगंज क्षेत्र में संदिग्ध आतंकवादियों और उत्तर प्रदेश पुलिस के एटीएस के बीच मुठभेड़ चल रही है। इस आपरेशन को उत्तर प्रदेश के डीजीपी जावीद अहमद और एटीएस के आईजी असीम अरुण आपरेट कर रहे हैं।

इसमें बड़ी संख्या में पुलिस और एटीएस की टीमें लगी हुई हैं। यहां पर एक संदिग्ध आंतकी के होने की गुप्त सूचना पर यूपी एटीएस की टीम ने इस आतंकी को पकड़ने के लिए पूरे क्षेत्र में घेराबंदी करके आपरेशन का अंजाम दे रही है। एटीएस की टीम पर संदिग्ध आतंकवादियों की तरफ से भी गोलियां दागी गई हैं।

Share it
Top