स्वीडिश कंपनी बनाएगी भारत के लए लड़ाकू विमान

स्वीडिश कंपनी बनाएगी भारत के लए लड़ाकू विमानभारत के लिए जंगी जहाज बनाएगी स्वीडिश कंपनी साब  

नई दिल्ली। स्वीडिश कंपनी साब ने इंडियन एयर फोर्स के लिए एकल इंजन वाले लड़ाकू जेट का ठेका हासिल करने के लिए भारत मे इसका निर्माण हब बनाने का प्रस्ताव दिया है।

कंपनी के मुताबिक, अगर उसे यह ठेका मिल जाता है तो वह दुनिया के अत्याधुनिक जेट बनाने वाली सुविधाओं से लैस बहुउद्देशीय जेट निर्माण का कारखाना लगाएगी। साब के शीर्ष अधिकारियों ने बताया कि कंपनी ने पहले ही कारखाना लगाने का खाका तैयार कर लिया है। उसमें वह भारत और अन्य देशों के लिए ग्रिपेन ई जेट का निर्माण करेगी।

भविष्य की जरूरतों को देखते हुए उसके डिजाइन, उन्नत बनाने और सुधार के लिए अलग व्यवस्था होगी। सरकार ने वायु सेना के लिए एकल इंजन वाले जंगी जहाज का बेड़ा तैयार करने के लिए जानकारी देने का आवेदन भेज दिया है। यह करार हासिल करने के लिए अमेरिकी दिग्गज कंपनी लॉकहीड मार्टिन से साब को कड़ी प्रतिस्पर्धा करनी पड़ेगी।

लॉकहीड मार्टिन ने भी जंगी जहाज एफ-16 के भारत में निर्माण का प्रस्ताव दिया है। ग्रिपेन के सेल्स एवं मार्केटिंग निदेशक केंटएके मोलिन ने बताया है कि भारतीय वायुसेना के लिए ग्रिपेन ई सर्वश्रेष्ठ बहुउद्देश्यीय लड़ाकू विमान है।

Share it
Top