दिल्ली फिर हुई शर्मसार, पॉश इलाके में गैंगरेप की घटना, जान बचाने के लिए बालकनी से कूदी पीड़िता

दिल्ली फिर हुई शर्मसार, पॉश इलाके में गैंगरेप की घटना, जान बचाने के लिए बालकनी से कूदी पीड़िताखुद को बचाने के लिए करीब 20 फिट की ऊंचाई से कूदी महिला 

नई दिल्ली। रविवार को जहां होली के जश्न में पूरा देश डूबा था वहीं राजधानी में एक दिल दहला देने वाली वारदात घटित हुई। दिल्ली के पॉश इलाके पांडव नगर में एक 28 वर्षीय महिला के साथ गैंगरेप की घटना ने एक बार फिर देश की राजधानी में महिला सुरक्षा के सवाल को खड़ा कर दिया।

घटना रविवार तड़के हुई जब दुष्कर्म के बाद पीड़ित महिला को बाथरूम में बंद कर दिया गया जिसके बाद महिला ने किसी तरह बालकनी से कूदकर अपनी जान बचाई और पुलिस को मामले की जानकारी दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल महिला को एलबीएस अस्पताल में भर्ती कराया।

पुलिस के अनुसार, पांच आरोपी में से तीन नोएडा के एक नामी-गिरामी बीपीओ में कार्यरत हैं जबकि एक दक्षिण दिल्ली में किसी फाइनेंस कंपनी में काम करता था व एक बेरोजगार था। वहीं पीड़ित महिला तलाकशुदा व दो बच्चों की मां है।

पुलिस ने बताया कि नेपाल मूल की महिला मुनिरका इलाके में रहती है। नवीन देशमुख नामक युवक की शालू से पहचान थी। शनिवार शाम को घुमाने की बात कर नवीन धोखे से शालू को पांडव नगर स्थित अपने फ्लैट पर ले आया। यहां उसके चार दोस्त प्रतीक कुमार, विकास मेहरा, सर्वजीत और लक्ष्य पहले से मौजूद थे। आरोपियों ने शालू को फ्लैट में बंधक बना लिया। इसके बाद पांचों युवकों ने फ्लैट में शराब पी व जान से मारने की धमकी देकर सभी ने शालू के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद जान से मारने की धमकी देकर आरोपियों ने शालू को बाथरूम में बंद कर दिया। रविवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे शालू खुद को बचाने के लिए पहली मंजिल स्थित फ्लैट के बाथरूम से नीचे कूद गई।

सीसीटीवी में कैद हुई बालकनी से कूदने की घटना

पीड़िता के कूदने की घटना फ्लैट के सामने लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। बताया जा रहा है कि पीड़िता आरोपियों से बचने के लिए 20 फीट ऊंची बालकनी से कूद गई। महिला ने पुलिस को बताया कि उसने सड़क पर कई लोगों से मदद मांगी, मगर सबने नजरअंदाज कर दिया। इसके बाद वह एक ऑटोरिक्शा वाले की मदद से पुलिस स्टेशन पहुंची। जहां रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। मेडिकल जांच में यौन उत्पीड़न की पुष्टि हुई। आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 D के तहत केस रजिस्टर कर दिया गया है। पुलिस ने पांचों को गिरफ्तार कर लिया। पांचों ने अपना जुल्म कबूल कर लिया है।

Share it
Top