अक्टूबर में आ सकती है कोरोना वायरस की तीसरी लहर, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान ने पीएमओ को दी रिपोर्ट

गृह मंत्रालय के राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान (एनआईडीएम) ने प्रधानमंत्री कार्यालय को चेताया है कि कोरोना की तीसरी लहर का असर अक्टूबर में ज्यादा रहेगा।

अक्टूबर में आ सकती है कोरोना वायरस की तीसरी लहर, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान ने पीएमओ को दी रिपोर्ट

देश भर में कोरोना के अब तक 3 करोड़ 24 लाख, 49 हजार 306 मामले दर्ज हो चुके हैं। वहीं, इस महामारी की चपेट में आकर अब तक 4 लाख 34 हजार 756 लोगों की मौत हो चुकी है। फोटो: पिक्साबे

कोरोना वायरस की दूसरी लहर का असर अब धीरे-धीरे कम हो रहा है, लेकिन पूरी तरह से नियंत्रण नहीं हो पाया है। ऐसे में राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान ने पीएमओ को अक्टूबर में कोविड-19 की तीसरी लहर के बारे में चेताया है।

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर गृह मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान (एनआईडीएम) ने प्रधानमंत्री कार्यालय को रिपोर्ट दी है, जिसके अनुसार अक्टूबर महीने में कोरोना वायरस पीक पर रहेगा।

स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटे में पिछले 24 घंटों के दौरान भारत में कोविड-19 संक्रमण के 25,072 नए मामले सामने आए हैं। जबकि अभी भी भारत में 3,33,924 सक्रिय मामले हैं और पिछले 24 घंटों में पिछले 24 घंटों के दौरान 44,157 मरीज ठीक भी हुए हैं।

देश भर में कोरोना वायरस संक्रमध के अब तक 3 करोड़ 24 लाख, 49 हजार 306 मामले दर्ज हो चुके हैं। वहीं, इस महामारी की चपेट में आकर अब तक 4 लाख 34 हजार 756 लोगों की मौत हो चुकी है।

अक्टूबर में कोरोना वायरस की तीसरी लहर पीक पर पहुंच सकती है। एक दिन में पांच लाख तक नए केस आ सकते हैं और तीसरी लहर का असर बच्चों पर भी पड़ सकता है। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान की रिपोर्ट के मुताबिक तीसरी लहर का असर एक महीने तक रह सकता है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.