दिल्ली समेत पूरे भारत में पहुंचा दक्षिण-पश्चिम मॉनसून, दिल्ली पहुंचने में 16 दिन की देरी

दिल्ली समेत पूरे भारत में पहुंचा दक्षिण-पश्चिम मॉनसून, दिल्ली पहुंचने में 16 दिन की देरी

मंगलवार को दिल्ली पहुंचा मानसून @arvindojha

नई दिल्ली। बारिश का इंतजार कर रहे लोगों के लिए मंगलवार राहत लेकर आया। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग द्वारा मंगलवार को जारी मौसम पूर्वानुमान बुलेटिन के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मॉनसून दिल्ली समेत उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के सभी भागों को कवर करते हुए संपूर्ण भारत में पहुंच गया। दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के सम्पूर्ण भारत को पार करने की सामान्य समय सीमा 8 जुलाई है और इसने पूरे देश को सामान्य समय से 5 दिन की देरी से 13 जुलाई को कवर कर लिया।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की तरफ से जारी बयान के मुताबिक बंगाल की खाड़ी से आने वाली पूर्वी आर्द्र हवाओं के कारण पिछले 4 दिनों से उत्तर भारत के क्षेत्रों में बादलों का प्रभाव बढ़ा है और बारिश का दायरा भी अधिक क्षेत्रों तक पहुंच गया है।

राजधानी दिल्ली में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून आमतौर पर 27 जून को आता है जबकि इस बार सामान्य समय से लगभग 16 दिनों की देरी 13 जुलाई को पहुंचा है।

चित्र में देखिए देश में मॉनसून की प्रगति और मॉनसून के आने की सामान्य समय सीमा

लगभग दो दशकों (19 वर्ष) में यह पहली बार है कि दिल्ली पहुंचने में मानसून की अनुमानित तारीख और पहुंचने के बीच अंतर 15 दिनों का है। मौसम विभाग ने कहा कि "मानसून के आगे बढ़ने की भविष्यवाणी में संख्यात्मक मॉडल द्वारा इस तरह की विफलता दुर्लभ और असामान्य है।" आईएमडी लगातार स्थिति की निगरानी कर रहा है और दिल्ली सहित उत्तर पश्चिम भारत के शेष हिस्सों में मानसून के आगे बढ़ने पर नियमित अपडेट प्रदान करेगा।

दिल्ली में मानसून पहुंचने के साथ लगभग पूरे देश में पहुंच गया है। मई-जून में पहले चक्रवाती और फिर प्री-मॉनसून से बारिश हुई थी। कई राज्यों में मानसून आगमन के बावजूद पिछले 6-10 दिनों से बारिश न के बराबर हुई है। पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान समेत कई राज्यों में किसानों को अब ज्यादा बारिश का इंतजार है।

अंग्रेजी में ये खबर यहां पढ़ें-



Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.