Top

छत्तीसगढ़: बीजापुर में नक्सली हमले में 22 जवान शहीद, कई जवान अभी लापता

छत्तीसगढ़: बीजापुर में नक्सली हमले में 22 जवान शहीद, कई जवान अभी लापता

नक्सलियों ने सुरक्षाबलों पर शनिवार को हमला किया, जिसमें अब तक 22 जवान शहीद हुए है। फोटो- वीडियो का स्क्रीन शॉट

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में नक्सलियों ने सर्च ऑपरेशन के दौरान सुरक्षा बलों की टुकड़ी पर हमला किया, जिसमें 22 जवान शहीद हो गए। हमला सुकमा-बीजापुर के बॉर्डर पर हुआ है। जानकारी के मुताबिक ये हमला नक्सली लीडर हिडमा के गांव टुकलागुड़ा बस्ती के पास शनिवार की दोपहर हुआ था।

छत्तीसगढ़ में 10 दिन के अंदर दूसरा बड़ा नक्सली हमला हुआ है। शनिवार को हुई मुठभेड़ में अबतक 22 जवान शहीद हुए हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मुताबिक सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच करीब 4 घंटे मुठभेड़ चली है। मुख्यमंत्री ने मीडिया से कहा, "करीब चार घंटे मुठभेड चली है,नक्सलियों को बड़ा नुकसान हुआ है, हमारे भी जवान शहीद हुए हैं। कुछ जवान अभी लापता है। 7 घायल जवानों का रायपुर में इलाज चल रहा है वो खतरें से बाहर हैं। जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी।'

बीजापुर जिले के जोनागुड़ा में शनिवार (3 अप्रैल) को सुरक्षा बलों और नक्सलियो के बीज मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में कई नक्सलियों के भी मारे जाने की खबर है। घटना स्थल से एक महिला नक्सली का शव भी मिला है। रविवार सुबह पुलिस की टीम घटनास्थल पर सर्चिंग के लिए निकली। एक बार फिर नक्सलियों से जवानों का आमना-सामना हुआ। रविवार सुबह हुई मुठभेड़ में नक्सलियों को भारी नुकसान पहुंचने की बात कही जा रही है।

वो गांव जहां नक्सलियों ने सुरक्षा बलों पर हमला, शहीद जवानों के शव रविवार को बरामद किए गए।

सुकमा जिले के मीनपा में हुई पुलिस-सुरक्षाबल और नक्सलियों के बीच हुई ये मुठभेड़ इस साल की यह सबसे बड़ी नक्सली घटना है। मीडिया को मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस को पीएलजीएफ प्लाटून नंबर एक के नक्सली और नक्सली कमांडर हिड़मा के मौजूदगी की पुख्ता जानकारी मिली थी। जिसे देखते हुए ऑपरेशन लांच किया गया था। नक्सली जवानों से हथियार लूटने में कामयाब नहीं हो पाए। जवानों की एक टुकड़ी लगातार इलाके में सर्चिंग कर रही है।

नक्सली हमले में घायल जवान, 7 गंभीर रुप से घायल जवानों का रायपुर में इलाज चल रहा है।


Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.