Top

गाय-भैंस खरीदते समय उनकी उम्र पता करने का सही तरीका

कई बार गाय-भैंस खरीदते समय पशुपालक सही उम्र नहीं कर पाते, जबकि उम्र पता करना बहुत आसान होता है।

Divendra SinghDivendra Singh   12 Jun 2020 1:38 PM GMT

गाय-भैंस खरीदते समय सबसे पहले दिमाग में यही सवाल आता है कि उनकी सही उम्र कैसे पता करें, क्या सामने वाला सही उम्र बता रहा है। कई बार पशुपालकों से गलती भी हो जाती है, जबकि उनकी उम्र पता करने का तरीका बहुत आसान होता है।

गोविन्द बल्लभ पंत कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय, उत्तराखंड के पशुपालन विभाग के विशेषज्ञ डॉ. संदीप कुमार तलवार गाय-भैंस की सही उम्र पता करने का फॉर्मुला बता रहे हैं। इससे बड़ी आसानी से उम्र पता कर सकते हैं।

पशुपालकों का सबसे बड़ा प्रश्न रहता है कि कौन पशु खरीदा जाए, अगर दुधारू पशुओं की बात की जाए तो जो सिंधी, साहीवाल, गिर और राठी जैसी नस्लें हैं, उसमें भी ये प्रश्न रहता है कि हम पशु तो खरीदने जा रहे हैं, लेकिन उसकी उम्र कितनी है, कई बार सही उम्र का पता ही नहीं चलता।

जबकि उम्र पता करना बहुत आसान होता है। गाय-भैंस की अगर हम बात करें तो इनमें जो सामने वाले दांत होते हैं, उनमें ऊपर के चार दांत और चार दांत नीचे के होते हैं, उसके बाद बगल के नुकीले दांत होते हैं और पीछे चबाने वाले दांत होते हैं। कम उम्र के पशुओं के सामने वाले दांत नहीं होते, उनकी जगह पर मसुड़े होते हैं।


और उम्र पता करने में नीचे वाले दांत ही मदद करते हैं। नीचे वाले जबड़े में जो आठ दांत होते हैं, उन्हें देखकर हम उम्र निकाल सकते हैं, अगर आप इन्हें ध्यान से देखते हैं तो सारे दांत तिकोने दिखाई देते हैं। सबसे जरूरी बात, हमें दूध के दांत और स्थाई दांतों के बीच अंतर पता होना चाहिए। क्योंकि अगर हमें अंतर नहीं पता होगा तो हम ये पता नहीं कर पाएंगे कि उम्र कितनी है। इसको आसान तरीके से समझेंगे। इसमें दूध के दांत का आकार तिकोना होता है तो स्थाई दांत का आकार चौकोर, एक छोटे होते हैं तो दूसरे बड़े। एक बिल्कुल सफेद होता है तो दूसरे में पीलापन होगा।

अगर ये अंतर आपको पता चलेगा कि कितने दूध के दांत टूटकर स्थाई दांत आ गए हैं। दांत जोड़ों में निकलते हैं, इसलिए सबसे पहले हम बीच के दांत को देखेंगे, अगर वो टूटकर स्थाई दांत निकले हैं तो गाय की उम्र दो साल होगी, यानि दो साल में पशु के दो दूध के दांत टूटकर स्थाई दांत निकल गए हैं और छह अभी दूध के दांत हैं। सामान्य भाषा में इसे दो दांत का पशु बोलते हैं, क्योंकि इन पशुओं के दूध के दांत टूटकर स्थाई दांत आए होते हैं।


अगर ये चार दांत स्थाई हैं तो पशु तीन वर्ष का होगा। अगर छह दांत स्थाई हैं और अभी भी दो दूध के दांत हैं तो पशु चार वर्ष का होगा। अगर सारे के सारे यानि आठ दांत स्थाई आ गए हैं तो पशु पांच वर्ष का होगा। पांच वर्ष तक के पशु को पहचानना बहुत आसान होता है। ये तो पांच वर्ष तक की बात हुई इसके आगे के पता करना और आसान होता है।

इसमें बीच के दो स्थाई दांत अगर घिस गए हैं तो छह वर्ष की अवस्था होगी और अगर चार घिस गए हैं तो सात वर्ष की उम्र होगी, इसी तरह सारे स्थायी दांत घिस गए हैं तो उम्र नौ वर्ष की होगी।

इसी तरह भैंस की उम्र पता करने के लिए दो स्थाई दांत तीन वर्ष की उम्र में निकलते हैं, चार स्थाई दांत साढ़े तीन वर्ष की उम्र में निकलते हैं और फिर छह दांत साढ़े चार वर्ष और आठ के आठ दांत स्थाई दिखायी दे रहे हैं तो भैंस की उम्र लगभग पांच वर्ष होगी। यही प्रकिया घिसे हुए दांत में दोहराते हैं।



Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.