मृदा स्वास्थ्य कार्ड के महत्व को समझे किसान: कृषि मंत्री

मृदा स्वास्थ्य कार्ड के महत्व को समझे किसान: कृषि मंत्रीहरिद्ववार के शांतरशाह गाँव में केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह और योग गुरु बाबा राम देव व अन्य।

लखनऊ। नए साल के अवसर पर केन्द्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने सोमवार को हरिद्वार के शांतरशाह गाँव में दिव्य गोशाला और खेतों का भ्रमण किया।

इस अवसर पर केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा, “रासायनिक उर्वरकों के अंधाधुंध प्रयोग से मिट्टी की उर्वरक शक्ति घट रही है। ऐसे में किसानों को चाहिए कि वह अपने खेत का मृदा स्वास्थ्य कार्ड बनवाकर उसकी अनुशंसा के आधार पर खेती करें। साथ ही जैविक खेती केा अपनाएं।“

इस अवसर पर केन्द्रीय कृषि मंत्री ने किसानों से सीधे बात करके खेती की जानकारी ली। इस अवसर पर योग गुरु स्वामी रामदेव, आचार्य बालकृष्ण, कृषि विज्ञान केन्द्र के प्रभारी वैज्ञानिक पुरुषोतम समेत बड़ी संख्या में किसान भी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें: अब बांग्लादेश के जरिए भारत नहीं आ पाएगा गेहूं का रोग

जानें बोरान की कमी से किन-किन फसलों पर पड़ता है असर, कृषि वैज्ञानिक बता रहे उपाय
बेड विधि से चने की खेती से कम लागत में होगा अधिक उत्पादन

Share it
Top