कृषि व्यापार

यहां से खरीद सकते हैं अच्छी नस्ल के दुधारू पशु

लखनऊ। जिस भी नस्ल की गाय को पशुपालक खरदीने जा रहा है उसकी पूरी जानकारी पशुपालक को होनी चाहिए। क्योंकि पशुओं का व्यापार करने वाले लोग पैसे के लालच में किसी भी नस्ल को कुछ भी बताकर बेच देते है। दुधारु पशु का वजन रंग शरीर खान-पान दूध शारीरिक संरचना उसकी उत्पत्ति का स्थान आदि कई तरह की बातों को पशुपालक को ध्यान में रखना चाहिए। अगर किसी भी जिले का पशुपालक दूसरे राज्य या अन्य किसी स्थानीय बाजार से दुधारु पशु को खरीदने जा रहा है तो वो अपने पास के पशुचिकित्सक से सलाह ले सकते है। कुछ बाजार है जहां पशुपालक दुधारु पशु खरीद सकते है।

ये भी पढ़ें- ऐसे पहचानिए : कहीं आपका पशु बीमार तो नहीं

पशु हाट पशु मेले

अगर आप गाय, बेल, बकरी, भैस आदि खरीदना चाहते है। तो पहले अपने क्षेत्र के पशु हाट में तलाश करें। हर जिले में छोटे पशु हाट मेले लगते है। पशु खरीदने से पहले उसकी उत्पत्ति का स्थान के बारे में जरुर पूछे।

पुष्कर पशु मेला

राजस्थान के पुष्कर में सबसे बड़ा मेला लगता है, जिसमें दूर-दूर के राज्यों के लोग खरीदने और बेचते है। इस मेले में अच्छी नस्ल के पशु मिल जाते है।

ये भी पढ़ें- गाय-भैंस के गोबर के बाद अब मुर्गियों की बीट से बनेगी बॉयोगैस

सोनपुर पशु मेला

इस मेले का आयोजन बहुत बड़े स्तर पर होता है। यह मेला- नवम्बर दिसम्बर माह में लगता है। इस मेले में कई नस्ल के पशु उपलब्ध रहते है।

नागपुर का पशु मेला

पशुपालक नागपुर से भी दुधारु पशुओं को खरीद सकते है। यह मेला जनवरी फरवरी में होता है। यहां पर भी अच्छी नस्ल के पशु उपलब्ध होते है।

ये भी पढ़ें- डेयरी व्यवसाय में मजदूरों की जगह ले रही हैं आधुनिक मशीनें

आगरा का पशु मेला

आगरा के पास बटेश्वर शहर में पशु मेला लगता है। यहां पर गाय, भैंस, बैल, बकरी आदि समेत कई पशु मिलते है। यह मेला कार्तिक माह में लगता है।

अगर कोई पशुपालक साहीवाल प्रजाति की गायें खरीदना चाहता है आप इन्हें अम्रतसर, जालंधर, हिसार, गुरदासपुर, करनाल, कपूरथला, फिरोजपुर, अन्होरदुर्ग(म़प्र) मेरठ, बिहार पश्चिम बंगाल के पशु हाट पशु मेलों से ख़रीद सकते है।

ये भी पढ़ें- 46 डिग्री सेल्सियस तापमान में भी जैविक खाद बनाने में मदद करेगा जय गोपाल केंचुआ

अच्छी नस्ल के दुधारू पशु की खरीदी बिक्री के लिए अभी भारत सरकार ने भी कदम उठाया है। कृषि मंत्री श्री राधा मोहन जी ने ई पशु हाट पोर्टल की शुरुआत की है। इस नई बेवसाइट www.epashuhaat.gov.in के जरिये विभिन्न नस्ल की गाय भैस और उनके भूण आदि प्राप्त किये जा सकते है।