घरेलू कीमतों में गिरावट रोकने को चीनी से निर्यात शुल्क हट सकती है सरकार : पासवान

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   10 Feb 2018 11:59 AM GMT

घरेलू कीमतों में गिरावट रोकने को चीनी से निर्यात शुल्क हट सकती है सरकार : पासवानकेंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान।

नई दिल्ली। देश के कई बड़े नगरों में पिछले एक माह में चीनी की कीमतों में एक से चार रुपए प्रति किलोग्राम की गिरावट आई है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, पूर्वोत्तर राज्यों के कुछ शहरों में चीनी की कीमतों में नौ रुपए तक की गिरावट आई है। चीनी के गिरते हुए दाम को देखते हुए सरकार चीनी से निर्यात शुल्क हटाने पर विचार कर रही है।

खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान ने कहा कि उत्पादन वृद्धि और घरेलू कीमतों में गिरावट को देखते हुए सरकार चीनी से निर्यात शुल्क हटाने पर विचार कर रही है ताकि निर्यात को बढ़ावा दिया जा सके। वर्तमान में चीनी पर 20 प्रतिशत निर्यात शुल्क लगता है।

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, चालू चीनी उत्पादन व विपणन वर्ष 2017-18 (अक्टूबर-सितंबर) में चीनी का उत्पादन 2.49 करोड़ टन होने का अनुमान है, जबकि उद्योग संगठनों ने 2.6-2.7 करोड़ टन चीनी उत्पादन की उम्मीद जाहिर की है। देश की चीनी मांग 2.4 से 2.5 करोड़ टन सालाना है। सरकार चीनी उत्पादक राज्यों में गन्ने की आपूर्ति तथा दूसरी गतिविधियों के आधार पर इसकी समीक्षा करेगी।

देश में चीनी उत्पादन खपत से अधिक रहने की स्थिति को देखते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार पहले ही चीनी पर आयात शु्ल्क को दोगुना करके 100 प्रतिशत कर चुकी है ताकि विदेशी बाजारों खासकर पाकिस्तान से आने वाली सस्ती चीनी के आयात को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि सरकार ने घरेलू बिक्री के लिए मिलों पर दो महीने के लिए मात्रात्मक प्रतिबंध लगाए हैं।

उद्योग की निर्यात शुल्क हटाने की मांग पर पासवान ने कहा, "सरकार इस पर विचार कर रही है।" पासवान ने कहा, "हमने पहले ही आयात शुल्क पर फैसला ले लिया है। हमने स्टॉक लिमिट हटा लिया है। अब हम निर्यात शुल्क हटाने पर विचार कर रहे हैं, लेकिन हम यह नहीं बता सकते हैं कि इसे कब हटाया जाएगा।"

छिटपुट मांग से चीनी भाव स्थिर

छिटपुट खरीद के बीच पर्याप्त स्टॉक के चलते शुक्रवार को दिल्ली थोक चीनी बाजार में चीनी कीमतें स्थिर रहीं। बाजार सूत्रों ने कहा कि पर्याप्त स्टॉक के मुकाबले छिटपुट मांग के चलते चीनी भाव स्थिर रहे।

09. 02.2018 को बंद भाव : रुपए प्रति कुंतल में: इस प्रकार रहे।

चीनी खुदरा बाजार: 34 से 38 रुपए प्रति किलो।

चीनी तैयार: एम-30-- 3,450 - 3,680 रुपए, एस.30-- 3,440 - 3,670।

चीनी मिल डिलीवरी: एम.30- 3,225 - 3,380 रुपए, एस.30- 3,215 - 3,370।

चीनी मिलगेट (शुल्क सहित) मवाना 3,250 रुपए, किन्ननी 3,380 रुपए, अस्मोली 3,320 रुपए, दोराला 3,250 रुपए, बुढ़ाना 3,240 रुपए, थानाभवन 3,235 रुपए, धनोरा 3,350 रुपया, सम्भिौली 3,330 रुपए, खतौली 3,350 रुपए, धामपुर 3,220 रुपए, सकोटी 3,235 रुपए, मोदीनगर 3,220 रुपए, शामली 3,240 रुपए, रामाला 3,025 रुपए, अनूपशहर 3,030 रुपए, बागपत 3,040 रुपए, मोरना 3,025 रुपए, चांदपुर 3,075 रुपए, नजीबाबाद 3,015 रुपए, और नानोटा 3,025 रुपए।

कृषि व्यापार से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top