Mo. Amil

Mo. Amil

Swayam Desk रिपोर्टर और कॉर्डिनेटर, स्वयं प्रोजेक्ट, एटा, उत्तर प्रदेश


  • यूपी का एक कस्बा जो है ख़िलजी और राजपूतों की दोस्ती की मिसाल  

    फ़िल्म पद्मावत को लेकर ख़िलजी वंश के दूसरे शासक अलाउद्दीन ख़िलजी इन दिनों सुर्ख़ियो में है, फ़िल्म निर्माण से लेकर फ़िल्म रिलीज होने तक इसका विरोध राजपूत करणी सेना कर रही है, करणी सेना के विरोध के चलते आज राजपूतों और अलाउद्दीन ख़िलजी के बीच दुश्मनी को लेकर इतिहास खंगाला जा रहा है, इनके बीच की दुश्मनी की...

  • इस समय आम के बाग में बढ़ जाता है भुनगा व मिज कीट का प्रकोप, ऐसे करें प्रबंध 

    एटा। आम के पेड़ों पर बौर आने शुरू हो गए हैं, बौर लगने के साथ आम के बागों में कीट एवं रोगों का भी खतरा मंडराने लगता है, ऐसे में सही प्रबंधन से फसल को नुकसान से बचाया जा सकता है।ये भी पढ़ें- आम के बाग में गुम्मा रोग व स्केल कीट का प्रकोप, समय से प्रबंधन न करने पर घट सकता उत्पादनप्रदेश में आम के...

  • बोरिंग धंसने से किशोर की मौत, शव देखकर पिता की निकल गई जान

    कासगंज। बोरिंग के लिए गड्ढा खोदते समय संजू (17 वर्ष) और उसके पिता को ये नहीं पता था कि ये उनका ये आखिरी दिन होगा, बोरिंग का गड्ढा खोदते समय मिट्टी धंसने से संजू की दबकर मौत हो गई और बेटे की लाश देखकर पिता की भी हार्ट अटैक से मौत हो गई।ये भी पढ़ें- इसीलिए तो कहते हैं... भगवान किसी को अस्पताल न...

  • एटा : लागत भी नहीं निकाल पा रहे अमरूद की खेती करने वाले किसान

    एटा। अमरूद की खेती करने वाले किसानों को इस बार उम्मीद थी कि फसल से अच्छा मुनाफा हो जाएगा, लेकिन इस बार अच्छी फसल आने से किसानों की उम्मीदों पर पानी फिर गया।अमरुद की कम पैदावारी ने इसके दाम आसमान पर पहुंचा दिए हैं, अमरुद के बाग़ करने वाले किसानों व कृषि विशेषज्ञ फसल की कम पैदावार को फसली चक्र का कारण...

  • मिर्च की खेती ने बदल दी इन किसानों की जिंदगी

    धान-गेहूं जैसी परंपरागत फसलों की खेती को छोड़ दूसरी नकदी फसलों की तरफ किसानों का ज्यादा रुझान बढ़ रहा है, एटा के खकरई गाँव में जहां पहले सिर्फ 12 बीघा में मिर्च की खेती होती थी, आज दो सौ बीघा से ज्यादा में मिर्च की खेती होने लगी है।एटा जिला मुख्यालय से लगभग 30 किमी. दूर मारहरा ब्लॉक के खकरई व आसपास...

  • नहीं लगे सरकारी कांटे, मंडी में बेच रहे धान

    एटा/अलीगढ़। एटा जनपद में किसानों का बुरा हाल है, किसान धान बेचने के लिए भटक रहे हैं। सरकार द्वारा हर पांच किलोमीटर दूरी पर धान खरीदने के लिए लगाए जाने वाले कांटे कोसों दूर तक दिखाई नहीं दे रहे। इस कारण धान किसानों को अपनी फसल मण्डी में कम दामों पर बेचना पड़ रहा है। एटा की विपणन अधिकारी इस समस्या का...

  • कासगंज : तीर्थ नगरी सोरों के गाँव में बच्चों के साथ ‘हैप्पी दीपावली’ 

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्ककासगंज। गाँव कनेक्शन फाउंडेशन द्वारा 'इस बार दीपावली गाँव के साथियो के साथ' कार्यक्रम भगवान वराह की प्रसिद्ध तीर्थ नगरी के पवित्र लहरा गंगा घाट किनारे स्थित गाँव डिगलिस नगर में गरीब बच्चों के साथ आयोजित किया, कार्यक्रम में दीपावली को लेकर गरीब बच्चों में खिलौने, कपड़े,...

  • एटा कलेक्ट्रेट में पशुओं सहित किसानों ने किया प्रदर्शन  

    पुष्पेन्द्र यादव/स्वयं प्रोजेक्टएटा। समग्र विकास परिषद का 20 सूत्रीय मांगों को लेकर चल रहे अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन में चौथे दिन किसान अपने जानवर लेकर कलेक्ट्रेट पर पहुंचे, किसानों ने कलेक्ट्रेट पर अपने जानवर बांधकर प्रदर्शन किया, प्रशासन किसानों की मांग को अभी नजर अंदाज किए हुए है| प्रशासन के...

  • अलीगढ़ में मैला ढुलवाने पर होगी एफआईआर, ढहाए जाएंगे कच्चे शौचालय  

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कअलीगढ़। जिले में अगर खुले में शौच करता है या फिर मैला ढ़ुलवाता है, तो उसकी खैर नहीं है। जिला प्रशासन ने इनके खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार किया है, जिनके घरों में कच्चे शौचालय हैं उन्हें जल्द ही गिरा दिया जाएगा।इतना ही नही जिन घरों द्वारा अगर मैला ढोने का कार्य किसी कर्मी से करवाया...

  • युवक व महिला मंगल दल ढोल-मंजीरों की धुन पर देंगे स्वच्छता का सन्देश  

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कअलीगढ़। खेलकूद को बढ़ावा देने के उद्देश्य से बनी युवक मंगल दल व महिला मंगल दल के सदस्य अब गाँव-गाँव में जाकर ग्रामीणों को ढोल-मंजीरों की धुन पर स्वच्छता का सन्देश देंगे, साथ ही यह दल ग्रामीणों को खुले में शौच न करने व घर-घर शौचालय निर्माण के लिए भी प्रेरित करेंगे, इसके लिए इन...

  • अलीगढ़ के दो अस्पताल अब बनेंगे ई-हॉस्पिटल 

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कअलीगढ़। जिले के मलखान सिंह जिला चिकित्सालय और पं. दीनदयाल उपाध्याय चिकित्सालय राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन योजना के तहत ई-हॉस्पिटल की सुविधा से लैस हो जाएंगे। इसके लिए 61.38 लाख रुपए की धनराशि जारी कर दी गई है, उत्तर प्रदेश के 19 जनपदों के कुल 27 अस्पताल ई-हॉस्पिटल की सुविधा में...

  • झांझी टेसू को लेकर कभी गाँवों में एक सप्ताह तक रहता था पर्व सा माहौल

    दिलीप सिंह/रमन यादवएटा। “ब्रज की भाषा में रंगा”, यह गीत कभी ब्रज क्षेत्र में मिट्टी के झांझी टेसू को हाथ में लेकर बच्चों व बड़ों के झुण्ड रश्म निभाते वक़्त गाया करते हैं, आज भागती-दौड़ती जिंदगी में न यह गीत सुनाई देते हैं और न ही यह यह रस्म निभाने वाले झुण्ड, कभी शारदीय नवरात्र से पूर्णिमा तक एक पर्व...

Share it
Share it
Share it
Top