भाजपा को मामा शिवराज की पार्टी के तौर पर जानते हैं नेपानगर व शहडोल के आदिवासी  

भाजपा को मामा शिवराज की पार्टी के तौर पर जानते हैं नेपानगर व   शहडोल  के आदिवासी  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।

भोपाल (आईएएनएस)| मध्य प्रदेश के नेपानगर विधानसभा उपचुनाव व शहडोल संसदीय उपचुनाव में भाजपा की जीत से भाजपा नेता और सरकार के मंत्री उत्साहित हैं।

राज्य के गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा, "शहडोल के कई क्षेत्रों के आदिवासी मतदाता भाजपा को कम जानते हैं और वे भाजपा को मामा की पार्टी के तौर पर ज्यादा जानते हैं।"

पढ़े यह खबर जिसमें भाजपा को जनता ने आंखों का तारा बनाया

नेपानगर में भाजपा उम्मीदवार मंजू दादू ने 42,198 मतों व शहडोल में भाजपा उम्मीदवार ज्ञान सिंह ने 60,000 से अधिक मतों के अंतर से जीत दर्ज की हैं। इस पर भाजपा नेताओं और सरकार के मंत्रियों की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

पढ़े यह भी खबर

राज्य के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने संवाददाताओं से चर्चा करते हुए भाजपा को उपचुनाव में मिली सफलता पर जीत का श्रेय सीधे मुख्यमंत्री को दिया और उनकी लोकप्रियता का हवाला देते हुए कहा, "वे भी शहडोल संसदीय क्षेत्र के चुनाव प्रचार में गए थे। यह आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र है। इस दौरान उन्होंने महसूस किया कि वहां के कई क्षेत्रों के आदिवासी नेता भाजपा को कम जानते हैं और वे भाजपा को मामा शिवराज की पार्टी के तौर पर जानते हैं।"

सिंह भी भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में प्रचार करने शहडोल गए थे।

उन्होंने आगे कहा, "मुख्यमंत्री की इस लोकप्रियता को कांग्रेस ने भी भुनाने की कोशिश की और यही कारण था कि कांग्रेस के नेताओं ने शिवराज मामा का चुनाव चिह्न हाथ का पंजा तक बताया था। बाद में हमारी पार्टी के लोगों को मतदाताओं को यह बताना पड़ता था कि शिवराज मामा की पार्टी का चुनाव चिह्न कमल का फूल है।"



Share it
Top