राजनीति

दिल्ली, हिमाचल, मध्य प्रदेश, असम उपचुनाव में भाजपा जीती, कर्नाटक की दोनों सीटें कांग्रेस की झोली में

नई दिल्ली (भाषा)। भाजपा आज दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश और असम में हुए विधानसभा उपचुनाव जीत गई जबकि राजस्थान में नौ सीटों पर उसे बढ़त हासिल है। यहां उपचुनाव रविवार को हुआ था। कर्नाटक में कांग्रेस को कुछ सांत्वना मिली, उसने यहां दोनों सीटें जीत लीं।

रविवार को सात राज्यों में नौ विधानसभा सीटों पर उप चुनाव हुए थे, इसके अलावा श्रीनगर संसदीय सीट पर भी चुनाव हुए थे। कर्नाटक, मध्य प्रदेश में दो-दो सीटें थीं जबकि पश्चिम बंगाल, असम, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली में एक-एक सीट थी। निकाय चुनाव से पहले दिल्ली उपचुनाव में मिली जीत भाजपा के लिए अच्छा संकेत है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

राजौरी गार्डन विस उपचुनाव में भाजपा जीती जबकि आम आदमी पार्टी को बुरी हार का सामना करना पड़ा, यहां वह तीसरे क्रम पर रही यहां तक कि आप के उम्मीदवार की जमानत तक जब्त हो गई। भाजपा-शिअद के संयुक्त उम्मीदवार मनजिंदर सिंह सिरसा को कुल मतों के लगभग 50 फीसदी 40,602 मत मिले।

कांग्रेस की मीनाक्षी चंदेला 25,950 मतों के साथ दूसरे नंबर पर रही जबकि आप के हरजीत सिंह को केवल 10,243 मत मिले। भाजपा के उम्मीदवार ने बांधवगढ सीट पर विपक्षी कांग्रेस के उम्मीदवार को लगभग 25,000 मतों से हराया जबकि अटेर सीट पर कांग्रेस और भाजपा के बीच मुकाबला कडा रहा।

उमरिया जिले की बांधवगढ़ विधानसभा सीट पर भाजपा के उम्मीदवार शिवनारायण सिंह ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस की सावित्री सिंह को 25,476 मतों के बडे अंतर से हरा दिया। बीते नवंबर में उपचुनाव में यहां से भाजपा विधायक ज्ञान सिंह ने शहडोल लोकसभा सीट जीत ली थी, जिसके बाद उपचुनाव की जरुरत पड़ी।

हिमाचल प्रदेश में भाजपा उम्मीदवार डॉ. अनिल धीमान ने 8,290 मतों से भोरंज (एससी) विस सीट जीती। उन्होंने कांग्रेस की प्रमिला देवी को 8,290 मतों से हराया। यह सीट पूर्व मंत्री और भाजपा के दिग्गज नेता ईश्वर दास धीमान के निधन के चलते रिक्त हो गई थी। वह यह सीट लगातार छह बार जीते थे। अब इस सीट से उनके बेटे अनिल धीमान जीते हैं। इसके साथ ही 68 सदस्यीय सदन में भाजपा विधायकों की संख्या बढ़कर 28 हो गई।

असम में भाजपा उम्मीदवार रानोज पेगु ने धेमाजी विस उपचुनाव जीता, उन्होंने कांग्रेसी उम्मीदवार बाबुल सोनोवाल को 9,285 मतों के अंतर से हराया। भाजपा के उम्मीदवार को 75,217 मत मिले जबकि कांग्रेस के उम्मीदवार को 65,932 मत मिले। चुनाव अधिकारी ने यह जानकारी दी। यहां से भाजपा विधायक प्रधान बरुआ के लखीमपुर लोकसभा सीट जीत लेने से यह सीट रिक्त रह गई थी। कर्नाटक में सत्तारुढ कांग्रेस ने नंजनगुंड और गुंडलुपेट विस सीटें जीत ली। नंजनगुंड पर कांग्रेस उम्मीदवार कालाले एन केशवमूर्ति ने भाजपा के वी श्रीनिवास प्रसाद को करीब 21,000 मतों से हराया।

गुंडलुपेट से कांग्रेस की गीता महादेवप्रसाद ने भाजपा के सीएस निरंजन कुमार को लगभग 10,000 मतों से हराया। दोनों सीटें कांग्रेस की झोली में गई। राजस्थान में भाजपा उम्मीदवार शोभा रानी धौलपुर विस उपचुनाव में दसवें राउंड की गणना में 22,602 मतों से आगे चल रही हैं

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।