कांग्रेस का शिवराज को मानहानि का नोटिस

कांग्रेस का शिवराज को मानहानि का नोटिसशिवराज सिंह चौहान, मुख्मंत्री, मध्य प्रदेश

भोपाल (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश के शहडोल संसदीय क्षेत्र में होने वाले उप-चुनाव के प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा दिए गए बयान 'कांग्रेस का हाथ आतंकवादियों के साथ' पर कांग्रेस ने सख्त ऐतराज जताते हुए मानहानि का नोटिस दिया है। इस नोटिस में कहा गया है कि चौहान या तो माफी मांगें या अपने बयान को साबित करें, ऐसा न होने पर कांग्रेस आपराधिक अभियोजन की कार्रवाई करेगी।

प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता के.के. मिश्रा ने गुरुवार को एक बयान जारी कर कहा कि प्रदेश भारतीय जनता पार्टी अपने अधित फेसबुक पेज के माध्यम से चुनावी फायदे के लिए साजिश रच रही है, मुख्यमंत्री चौहान द्वारा दिए गए भाषण को संकलित कर 'कांग्रेस का हाथ-आतंकवादियों के साथ' जैसी अप्रमाणित और अपमानजक बातें कहीं गई हैं, जो 130 वर्षो पुरानी कांग्रेस पार्टी की गंभीर मानहानि है। इसी के चलते मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान को अलग-अलग सूचना पत्र भेजा गया है।

मिश्रा के मुताबिक, इस सूचना पत्र के माध्यम से उनसे आगामी 15 दिवस में क्षमा याचना करने अथवा इस अपमानजनक कथन को साबित करने को कहा गया है। ऐसा न होने की दशा में पार्टी इन दोनों के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 499 एवं 500 के तहत आपराधिक अभियोजन की कार्रवाई करने की बात कही है।

इस सूचना पत्र के माध्यम से मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का गठन स्वतंत्रता के पूर्व ब्रिटिश साम्राज्य से देश को आजाद करवाने के उद्देश्य से किया गया था और इस पार्टी के लाखों कार्यकर्ताओं ने न केवल स्वतंत्रता आंदोलन में हिस्सा लिया, बल्कि देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर किए हैं।

उन्होंने कहा कि जिस पार्टी ने आजादी के संग्राम से लेकर आजाद मुल्क में ब्रिटिश हुकूमत और आतंकवाद से लड़ते हुए अपने वरिष्ठ नेताओं को खोया हो, उस पार्टी को भाजपा के अधिकृत फेसबुक पेज पर षड्यंत्रपूर्वक झूठी जानकारी और मुख्यमंत्री चौहान द्वारा आधारहीन बयान देना कांग्रेस पार्टी को नुकसान एवं उसकी प्रतिष्ठा को धूमिल करने का प्रयास है।

Share it
Top