उत्तराखंड में कांग्रेस गठबंधन कर चुनाव लड़ेगी

उत्तराखंड में कांग्रेस गठबंधन कर चुनाव लड़ेगीअंबिका सोनी, उत्तराखंड कांग्रेस प्रभारी

देहरादून (भाषा)। उत्तराखंड की कांग्रेस प्रभारी अंबिका सोनी ने आज संकेत दिये कि सत्ताधारी पार्टी फरवरी में होने वाले विधानसभा चुनाव राज्य सरकार में शामिल प्रगतिशील लोकतांत्रिक मोर्चा के साथ मिलकर लड़ सकती है।

यहां एक संवाददाता सम्मेलन में सोनी ने कहा, ‘‘पीडीएफ ने लंबे समय तक कांग्रेस का साथ दिया है इसलिये हम उसे नहीं छोड़ सकते।'' हांलांकि, उन्होंने इस सवाल का सीधा जवाब नहीं दिया कि क्या कांग्रेस सभी 70 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी।

यहां प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में हिस्सा लेने आयी सोनी का यह बयान मुख्यमंत्री हरीश रावत के उस रुख से मेल खाता है जिसमें वह गठबंधन जारी रखने के पक्ष में दिखायी देते रहे हैं। हालांकि, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय यह बात साफ कर चुके हैं कि कांग्रेस सभी 70 सीटों पर अपने चिह्न पर चुनाव लड़ेगी।

पूर्व में दो बार विधायक रह चुके उपाध्याय इस बार भी टिहरी विधानसभा क्षेत्र से टिकट के प्रबल दावेदार हैं और प्रदेश के मौजूदा पर्यटन मंत्री और पीडीएफ सदस्य दिनेश धनै भी यहां से टिकट चाहते हैं। हालांकि, रावत चाहते हैं कि धनै टिहरी से ही चुनाव लड़े।

टिकटों के बंटवारे को लेकर सोनी ने कहा कि प्रदेश स्तर पर मुख्यमंत्री रावत और प्रदेश अध्यक्ष उपाध्याय को आवेदनकर्ताओं की छानबीन करके एक अंतिम सूची तैयार करने के काम के लिये अधिकृत किया गया है जिसे बाद में केंद्रीय स्तर पर कुमारी शैलजा की अध्यक्षता वाली स्क्रीनिंग कमेटी के सामने रखा जायेगा और वही उसे अंतिम रूप देंगी।

हालांकि, वहां मौजूद उपाध्याय ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने एक संकल्प पारित करके पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी को उम्मीदवारों के टिकट फाइनल करने के लिये अधिकृत कर दिया है। सोनी ने जोर देकर कहा कि पार्टी एकजुटता से चुनाव लड़ेगी और स्वच्छ छवि के उम्मीदवारों को ही चुनाव मैदान में उतारा जायेगा।

Share it
Top