हरिद्वार में विजय संकल्प रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तराखंड की जनता से कहा, देवभूमि को कलंकित करने वाली सरकार को उखाड़ फेंकें

हरिद्वार में विजय संकल्प रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तराखंड की जनता से कहा, देवभूमि को कलंकित करने वाली सरकार को उखाड़ फेंकेंहरिद्वार के ऋषिकुल मैदान में भाजपा की विजय संकल्प रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

हरिद्वार (भाषा)। हरिद्वार के ऋषिकुल मैदान में आयोजित भाजपा की विजय संकल्प रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उत्तराखंड के लिए अगले पांच साल की अवधि को किसी 16 वर्षीय किशोर के विकास के लिए जरूरी समय जितना महत्वपूर्ण बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज जनता से देवभूमि के नाम को कलंकित करने वाली सरकार को उखाड़ फेंकने और उसकी जगह राज्य के अटलजी के स्वप्न को साकार करने वाली सरकार लाने को कहा।

यहां ऋषिकुल मैदान में आयोजित भाजपा की ‘विजय संकल्प रैली' में मोदी ने कहा, ‘हर किसी के जीवन में 16वां वर्ष बहुत महत्वपूर्ण होता है क्योंकि अगले पांच साल भविष्य की बातों को निर्धारित करते हैं और अपने अस्तित्व के 16वें वर्ष में उत्तराखंड के साथ भी यही बात है। अगले पांच साल वह दिशा निर्धारित करेंगे जिसमें इसे जाना है।'

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में भ्रष्टाचार को अदालतों में सिद्व किए जाने की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि यह ऐसी चीज है जिसे पूरे देश ने टेलीविजन पर देखा है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘एक ऐसा समय था जब देवभूमि के जिक्र से पवित्र भावनाएं आती थीं लेकिन अब ऐसा नहीं है। अब इस शब्द के जिक्र से दिमाग में एक दागदार सरकार की छवि आती है। पूरे देश में इसे टीवी पर देखा, क्या आप ऐसी सरकार को सत्ता से बाहर नहीं करेंगे जिसने देवस्थली की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाई।

'पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के उत्तराखंड के लिए देखे गये स्वप्न को साकार करने की जिम्मेदारी खुद पर लेने की बात कहते हुए मोदी ने जनता से भाजपा की सरकार लाने को कहा जो उत्तराखंड के गौरव को बहाल करे।

मोदी ने कहा कि उन्होंने उत्तराखंड के लिए वाजपेयी के सपने को पूरा करने का संकल्प लिया है, क्योकि केंद्र में उनके बाद आई सरकार ने इस प्रक्रिया को पटरी से ही उतार दिया।

‘आल वेदर रोड परियोजना’ आपके लिए लाए

चारधाम तीर्थयात्रा को सुव्यवस्थित करने के लिए अपनी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उसने 12000 करोड़ रुपए की लागत वाली ‘आल वेदर रोड परियोजना’ का शिलान्यास किया। जिससे हिमालयी धामों के दर्शन को आने वाला हर व्यक्ति अपने भ्रमण का आनंद ले और सुरक्षित घर लौटे।

‘वन रैंक वन पेंशन’ पर मुख्यमंत्री ने कुछ नहीं किया

मुख्यमंत्री हरीश रावत का नाम लिए बिना उन पर करारा प्रहार करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केंद्र में मंत्री होने तथा हर मां के बेटे के सैन्य बलों में जाने वाले राज्य का निवासी होने के बावजूूद उन्होंने दशकों से लटके पड़े ‘वन रैंक वन पेंशन’ को तेजी से लागू करने के लिए कुछ नहीं किया।

वादे ऐसे किए जाते हैं और निभाए जाते हैं

संप्रग सरकार के 500 करोड़ रुपए के ओआरओपी लागू करने के फार्मूले को पूर्व फौजियों को गुमराह करने वाला बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने 12000 करोड़ रुपए का यथार्थवादी अनुमान लगाया और उसमें से 6000 करोड़ रुपए का भुगतान भी कर दिया। उन्होंने कहा, ‘वादे ऐसे किए जाते हैं और निभाए जाते हैं।



Share it
Top