पाकिस्तान अगर वास्तव में गुजरात चुनाव में ‘दखल देते’ पाया गया है तो उस पर हमला कर देना चाहिए : शिवसेना 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   12 Dec 2017 7:04 PM GMT

पाकिस्तान अगर वास्तव में गुजरात चुनाव में ‘दखल देते’ पाया गया है तो उस पर हमला कर देना चाहिए : शिवसेना पीएम मोदी पर जमकर बरसे शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे।

मुंबई (आईएएनएस)। शिवसेना ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी पर एक बार फिर हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हिम्मत दिखानी चाहिए और पाकिस्तान यदि वास्तव में गुजरात चुनावों में 'दखल देते' पाया गया है तो उस पर हमला कर देना चाहिए।

शिवसेना ने मोदी से कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के घर पर रात्रिभोज में मौजूद 'सभी नेताओं को गिरफ्तार करने' व 'राजद्रोह का मामला' दर्ज करने का आग्रह भी किया। इस रात्रिभोज में पाकिस्तान के उच्चायुक्त, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह व दूसरे नेता मौजूद थे।

शिवसेना ने कहा, "प्रधानमंत्री ने एक गंभीर आरोप लगाया है कि पाकिस्तान गुजरात चुनावों में दखल दे रहा है। यदि यह सत्य है तो हम चिंतित हैं।"

शिवसेना ने मुखपत्र सामना और दोपहर का सामना के संपादकीय में कहा, "अब तक पाकिस्तान सिर्फ जम्मू एवं कश्मीर में और चीन लद्दाख व अरुणाचल प्रदेश में दखल दे रहा था।"

संपादकीय में भारतीय जनता पार्टी से सवाल किया गया है कि क्या पाकिस्तान गुजरात में कांग्रेस सांसद अहमद पटेल को अगले मुख्यमंत्री के तौर पर स्थापित करने में वास्तव में मदद कर रहा है।

भाजपा के सहयोगी दल ने मोदी द्वारा पाकिस्तान के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बजाय गुजरात के चुनावी रैली में इस तरह के गंभीर आरोप लगाने पर आश्चर्य जाहिर किया।

इसमें कहा गया, "एक मजबूत खुफिया तंत्र होने के बावजूद प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें इस बैठक की जानकारी मीडिया रिपोर्ट से हुई। यह भी समान रूप से एक गंभीर मामला है। इसे चुनावी सभा में उछालने की बजाय, उन्हें भारतीय सेना को पाकिस्तान में दखल देने का आदेश देना चाहिए।"

राजनीति से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

शिवसेना ने कहा कि मोदी की चुनावी बातों ने भाजपा के बैद्धिक दिवालिएपन को उजागर कर दिया है, क्योंकि हर चुनाव में या तो पाकिस्तान या फरार माफिया दाऊद इब्राहिम को घसीटा जाता है।

शिवसेना ने संपादकीय में पूछा है, "आखिर कब तक आप हर मौके पर पाकिस्तान का नाम लेना जारी रखेंगे? देश आपसे कार्रवाई की उम्मीद करता है। इसलिए यह करिए।"

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top