सोना जिस तरह आग में तपकर खरा होता, उसी तरह वह भी जेल से बाहर निकलने पर और मजबूत होंगे : लालू यादव

सोना जिस तरह आग में तपकर खरा होता, उसी तरह वह भी जेल से बाहर निकलने पर और मजबूत होंगे : लालू यादवराष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव।

पटना (आईएएनएस)। चारा घोटाले के एक मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत से दोषी करार दिए जाने के बाद झारखंड की एक जेल में बंद राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद ने शनिवार को ट्वीट करते हुए खुद को 'सोना' बताया।

जेल जाने के बाद शनिवार को किए गए अपने दूसरे ट्वीट में लालू ने इशारों ही इशारों में अपने समर्थकों को दिए संदेश में जेल से निकलने पर मजबूत होने का दावा करते हुए लिखा, "सोने को तपाया जाता है, तो उसका क्या होता है?"

लालू ने यह जताने की कोशिश की है कि सोना जिस तरह आग में तपकर और खरा होता है, उसी तरह वह भी जेल से बाहर निकलने पर और मजबूत होंगे। लालू फिलहाल रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं।

राजनीति से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उन्होंने जेल जाने के बाद अपने पहले ट्वीट में लिखा था, "प्रिय साथियों, कारागार प्रवास के दौरान मेरे ट्विटर हैंडल का संचालन मेरा कार्यालय और परिवार के सदस्य करेंगे। समय-समय पर मुलाकातियों के मार्फत कार्यालय को संदेश पहुंचेगा, जो आपके पास ट्विटर या अन्य विधा से पहुंच जाएगा। संगठित रहिए, सचेत रहिए।"

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top