प्रधानमंत्री को दल, द्वेष की भावना से ऊपर उठना चाहिए: लालू

प्रधानमंत्री को दल, द्वेष की भावना से ऊपर उठना चाहिए: लालूराष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद।

पटना (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नसीहत देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को दल और द्वेष की भावना से ऊपर उठना चाहिए।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने सोमवार को लगातार तीन ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मेदी पर निशाना साधा। लालू ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री को नसीहत दी, ''प्रधानमंत्री (पीएम) को दल और द्वेष की भावना से ऊपर उठना चाहिए। उन्हें तकरार की नहीं प्यार की, तोड़ने की नहीं जोड़ने की, विनाश की नहीं विकास की बातें करनी चाहिए।''

एक अन्य ट्वीट में लालू ने मोदी को 'तानाशाह' बताया, ''ये तो तानाशाह प्रधानमंत्री हैं। देश के टुकड़े-टुकड़े कर तबाह कर देंगे। जनाब! आप प्रधानमंत्री हो, इतनी ओछी, छोटी और खोटी बातें नहीं करनी चाहिए।''

लालू यहीं नहीं रुके। उन्होंने प्रधानमंत्री के एक बयान पर तंज कसते हुए आगे लिखा, ''मोदी कहते हैं, मेरा क्या है? झोला उठाकर चल दूंगा। लेकिन यह नहीं बताया कि इस अदृश्य झोले में अंबानी, अडानी के अलावा और कौन-कौन से झोल-झमेले भरे हैं।''

लालू प्रसाद ने रविवार को प्रधानमंत्री द्वारा फतेहपुर में एक रैली में भेदभाव की राजनीति करने के बयान पर ट्वीट कर लिखा था, ''आप प्रधानमंत्री हैं, साहब। देश में श्मशान बनाने और किसानों के बिल माफ करने से किसी ने रोका है? 56 इंच की छाती वाला व्यक्ति डरपोक रास्ते से देश को गुमराह नहीं करता।''

मोदी ने फतेहपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था, ''अगर किसी गांव को कब्रगाह के निर्माण के लिए कोष मिलता है, तो उस गाँव को श्मशान की जमीन के लिए भी कोष मिलना चाहिए। अगर आप ईद में बिजली की आपूर्ति निर्बाध करते हैं, तो आपको दीपावाली में भी विद्युत आपूर्ति निर्बाध करनी चाहिए।'' उल्लेखनीय है कि पिछले कई दिनों से लालू लगातार प्रधानमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते रहे हैं। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश चुनाव में राजद समाजवादी पार्टी को समथर्न दे रहा है।

Share it
Top