रामलीला मैदान में स्वराज इंडिया की ‘जवाब दो, हिसाब दो’ रैली 

रामलीला मैदान में स्वराज इंडिया की ‘जवाब दो, हिसाब दो’ रैली स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनुपम ने बताया कि 12 फरवरी को ऐतिहासिक रामलीला मैदान में स्वराज इंडिया दिल्ली की तीनों सरकारों के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी।

नई दिल्ली (भाषा)। उपराज्यपाल प्रशासन, दिल्ली सरकार की आप सरकार और BJP नीत एमसीडी के कामकाज पर सवालिया निशान लगाते हुए स्वराज इंडिया पार्टी ने कहा है कि रविवार को रामलीला मैदान में दिल्ली की जनता के सानिध्य में इन तीनों सरकारों के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लायेगी।

स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनुपम ने बताया कि 12 फरवरी को ऐतिहासिक रामलीला मैदान में स्वराज इंडिया दिल्ली की तीनों सरकारों के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी। दिल्ली में तीन सरकारों में एक केंद्र के तहत एलजी की सरकार, दूसरी केजरीवाल नीत की राज्य सरकार और तीसरी नगर निगम की सरकार है मोदीजी की पार्टी चला रही है। दिल्ली के लोग कह रहे हैं- तीन सरकार, तीनों बेकार है।

स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने दिल्ली के हर आम आदमी से रामलीला मैदान पहुंच कर आंदोलन को मजबूत और कार्यक्रम को असरदार बनाने की अपील की है।

प्रशांत भूषण, योगेन्द्र यादव के मार्गदर्शन में स्वराज इंडिया दिल्ली में पिछले एक महीने से 'जवाब दो, हिसाब दो' मुहीम चलाया था। स्वराज इंडिया के कार्यकर्ताओं ने पूरी दिल्ली में लोगों के घर-घर जाकर संवाद कर रहे हैं, साथ ही केंद्र, राज्य और नगर निगम की तीनों सरकार के कामकाज का सर्वे किया। स्वराज इंडिया ने दावा किया कि ‘जवाब दो, हिसाब दो' सर्वे में दिल्ली सरकार और नगर निगम के कामकाज के बारे में पूछा गया। इसमें मात्र 11.6 प्रतिशत लोग ही दिल्ली सरकार से खुश हैं, वहीं सिर्फ 8 प्रतिशत लोग नगर निगम के काम से खुश हैं।

इसमें दावा किया गया है कि सर्वे में लोगों से यह भी पूछा गया था कि वो अपने पार्षद, एमएलए और एमपी के काम से खुश हैं या नहीं। 85.8 प्रतिशत लोग अपने पार्षद के काम से खुश नहीं हैं, वहीं 86.2 प्रतिशत लोग अपने एमएलए के काम से खुश नहीं हैं और 71.6 प्रतिशत लोग अपने सांसद के काम से खुश नहीं हैं। उल्लेखनीय है कि 12 फरवरी को ऐतिहासिक रामलीला मैदान में स्वराज इंडिया की ‘जवाब दो, हिसाब दो' रैली होगी।

Share it
Top